Movie prime
खरौझा गांव में चुनावी रंजिश में चटकी लाठियां एक दर्जन घायल, दो की हालत गंभीर ट्रामा सेंटर रेफर
tds_top_like_showtds_top_like_showtds_top_like_showtds_top_like_showtds_top_like_show चंदौली जिले के इलिया थाना अंतर्गत खरौझा गांव में आज दोपहर में चुनावी रंजिश को लेकर प्रधान पक्ष के लोगों ने पासवान जाति के एक परिवार के कुल एक दर्जन लोगों को लाठी डंडा से मारपीट कर बुरी तरह से घायल कर दिया। घायलों का उपचार चकिया स्थित जिला संयुक्त चिकित्सालय में कराया गया। जहां
 
खरौझा गांव में चुनावी रंजिश में चटकी लाठियां एक दर्जन घायल, दो की हालत गंभीर ट्रामा सेंटर रेफर

tds_top_like_showtds_top_like_showtds_top_like_showtds_top_like_showtds_top_like_show

चंदौली जिले के इलिया थाना अंतर्गत खरौझा गांव में आज दोपहर में चुनावी रंजिश को लेकर प्रधान पक्ष के लोगों ने पासवान जाति के एक परिवार के कुल एक दर्जन लोगों को लाठी डंडा से मारपीट कर बुरी तरह से घायल कर दिया। घायलों का उपचार चकिया स्थित जिला संयुक्त चिकित्सालय में कराया गया। जहां मिथिलेश कुमार 35 वर्ष एवं अरुण कुमार 38 वर्ष की हालत गंभीर होने पर डॉक्टरों ने वाराणसी के ट्रामा सेंटर के लिए रेफर कर दिया है।

खरौझा गांव में सुदामा पासवान का परिवार सैकड़ों वर्षो से रिहाईसी मड़ई लगाकर रहता है। बरसात के मौसम को देखते हुए सुदामा का परिवार पुरानी हो चुकी मड़ई को मरम्मत करने के काम में लगा था, चुनावी रंजिश को लेकर ग्राम प्रधान राजन सिंह एवं उनके समर्थक सुदामा पासवान के घर पर पहुंचकर मड़ई लगाने का विरोध करने लगे।

खरौझा गांव में चुनावी रंजिश में चटकी लाठियां एक दर्जन घायल, दो की हालत गंभीर ट्रामा सेंटर रेफर

ग्राम प्रधान का कहना था कि मडई लगाने वाली जगह ग्राम समाज की है, इस भूमि में किसी भी कीमत पर मडई नहीं लगाई जाएगी। सुदामा के परिवार के लोगों ने पुश्तैनी जमीन बताते हुए अपना पक्ष रखा तो ग्राम प्रधान राजन सिंह ने लेखपाल अमरेश यादव को मौके पर बुला दिये और जमीन नापी के दौरान दोनों पक्ष में नोकझोंक शुरू हो गयी। तब तक प्रधान पक्ष के लोगों ने सुदामा पासवान के घर में घुसकर उसके परिवार के एक दर्जन सदस्यों को लाठी डंडे से मारपीट कर बुरी तरह से घायल कर दिया।

खरौझा गांव में चुनावी रंजिश में चटकी लाठियां एक दर्जन घायल, दो की हालत गंभीर ट्रामा सेंटर रेफर

जिससे अरुण कुमार 38 वर्ष, मिथिलेश कुमार 35 वर्ष, बलराम पासवान 55 वर्ष, प्यारी देवी 90 वर्ष, वीरेंद्र पासवान 38 वर्ष, सुदामा पासवान 60 वर्ष, रिशु 22 वर्ष, पिंकी देवी 30 वर्ष, रमवन्ती 53 वर्ष, कैलाशी 58 वर्ष, संयुक्ता 30 वर्ष, संगीता 35 वर्ष घायल हो गए। सूचना मिलते ही उपजिलाधिकारी अजय मिश्रा, पुलिस क्षेत्राधिकारी प्रीति त्रिपाठी, थानाध्यक्ष मिथिलेश तिवारी, चकिया कोतवाल नागेंद्र प्रताप सिंह सहित भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गए और घायलों को इलाज हेतु चकिया स्थित जिला संयुक्त चिकित्सालय भेजा गया। जहां मिथिलेश कुमार तथा अरुण कुमार का हालत गंभीर रहने पर वाराणसी स्थित ट्रामा सेंटर के लिए रेफर कर दिया।

खरौझा गांव में चुनावी रंजिश में चटकी लाठियां एक दर्जन घायल, दो की हालत गंभीर ट्रामा सेंटर रेफर

थानाध्यक्ष मिथिलेश तिवारी ने बताया कि घायल वीरेंद्र पासवान के तहरीर पर चार लोगों के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत कर विधिक कार्रवाई की जा रही है। वहीं सुरक्षा की दृष्टि से गांव में पुलिस एवं पीएसी के जवानों का पहरा लगा दिया गया है।