जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
रहस्यमय परिस्थितियों में विवाहिता सितू ने फांसी के फंदे पर झूलकर दे दी जान
मलहर गांव में बुधवार की सुबह सितू देबी 25 वर्ष ने संदिग्ध परिस्थितियों में मकान में लगे हुक में रस्सी के सहारे फंदा से झूलकर अपनी ईह लीला समाप्त कर ली।
 
ड्राइवर पति से होती रहती थी किचकिच, पांच साल में खत्म हो गया जनम-जनम वाला 7 फेरों का बंधन
चंदौली जिला के चकिया कोतवाली अंतर्गत मलहर गांव में बुधवार की सुबह सितू देबी 25 वर्ष ने संदिग्ध परिस्थितियों में मकान में लगे हुक में रस्सी के सहारे फंदा से झूलकर अपनी ईह लीला समाप्त कर ली। आसपास के लोगों से मिली सूचना पर शाम के वक्त मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर मर्चरी में रखवाकर अग्रिम कार्रवाई में जुटी हुई है।

  आपको बता दें कि शहाबगंज थाना क्षेत्र के सेमरा गांव निवासी सर्वजीत पासवान की पुत्री सितू का विवाह 5 वर्ष पूर्व मलहर गांव की नरसिंह पासवान के पुत्र नन्हे उर्फ नरेंद्र पासवान के साथ हुई थी। नन्हे पेशे से ड्राइवर है। इन दिनों सितू का घरवालों से आए दिन लड़ाई झगड़ा होता रहता था। इसी बीच सुबह के वक्त किन कारण से वह गले में फांसी का फंदा लगाकर अपनी जान दे दी, जो अभी तक रहस्य बना हुआ है। वैसे घटना के बाद से ससुराल पक्ष के लोग फरार हैं।

Situ suicide

  कोतवाली का प्रभार देख रहे एसएसआई राजकुमार शुक्ला ने बताया कि मृतिका सीतू के मौत के मामले की जांच की जा रही है। वैसे पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। जबकि घटना के बाद से ससुराल पक्ष के लोग फरार हैं। वहीं मृतिका के मायके पक्ष वालों को घटना की सूचना दे दी गई है।

 

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*