जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
मारपीट में घायल चौकीदार दयाशंकर की इलाज के दौरान मृत्यु, हिरासत में आरोपी
ग्रामसभा असना में मुर्गे से उपली खराब होने के कारण शनिवार की देर शाम दो वर्गों में मारपीट हो गयी थी। यादव और मुस्लिम वर्ग में विवाद बढ़ने पर मारपीट होने लगी।
 

दयाराम मृत्यु की सूचना मिलते ही उसके घर में कोहराम मच गया।

चौकीदार दयाशंकर यादव (50 वर्ष) बुरी तरह घायल और बेहोश हो गया था, जिसे हालत गंभीर होने पर ट्रामा सेंटर वाराणसी इलाज चल रहा था।

चंदौली जिले के कंदवा थाना क्षेत्र की ग्रामसभा असना में मुर्गे से उपली खराब होने के कारण शनिवार की देर शाम दो वर्गों में मारपीट हो गयी थी। यादव और मुस्लिम वर्ग में विवाद बढ़ने पर मारपीट होने लगी। इसी मारपीट में कंदवा थाने का चौकीदार दयाशंकर यादव (50 वर्ष) बुरी तरह घायल और बेहोश हो गया था, जिसे हालत गंभीर होने पर ट्रामा सेंटर वाराणसी इलाज चल रहा था। सोमवार को ढाई बजे दिन में उसकी मृत्यु हो गयी।

चौकीदार दयाराम मृत्यु की सूचना मिलते ही उसके घर में कोहराम मच गया। घर वालों का रो-रोकर बुरा हाल था। उसके दरवाजे पर ग्रामीणों की काफ़ी भीड़ इकठ्ठा हो गयी।

आपको बता दें कि चंदौली जिले के कंदवा थाना क्षेत्र के असना गांव में आपसी विवाद के कारण कंदवा थाना के चौकीदार के सिर पर ताबड़तोड़ प्रहार कर गंभीर रूप से घायल कर दिया गया है। असना गांव निवासी दया यादव जोकि कंदवा थाना के चौकीदार के पद पर तैनात हैं उनके पड़ोसी बिस्मिल्ला की पत्नी से विवाद चल रहा था। आप को बता दें कि बिस्मिल्ला कि पालतू मुर्गी को लेकर विवाद चल रहा था तभी बिस्मिल्ला का पुत्र नूरमोहम्मद और सैयद वहां पहुंच गये और दया यादव से उलझ गए और झगड़ा करने लगे । झगड़ा के दौरान पास में रखी लाठी से दया के सिर पर ताबड़तोड़ प्रहार कर दिया जिसमें दया गंभीर रूप से घायल हो गया है। आरोपी मौके से फरार हो गया। परिजनों द्वारा चौकीदार दया यादव को इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया गया जहां हालत गंभीर होने पर उसे वाराणसी ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया था।