जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
यथार्थ नर्सिंग कालेज में विधिक सेवा प्राधिकरण का जागरूकता कार्यक्रम
चन्दौली जनपद के यथार्थ नर्सिंग कालेज में जनपद न्यायाधीश के नेतृत्व में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण का जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया।
 

चन्दौली यथार्थ नर्सिंग कालेज 

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण का जागरूकता कार्यक्रम

देश के 75 में स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर आजादी के अमृत महोत्सव के विभिन्न कार्यक्रमों के तहत चन्दौली जनपद के यथार्थ नर्सिंग कालेज में जनपद न्यायाधीश के नेतृत्व में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण का जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं को जरूरी कानूनी जानकारी के बारे में बताया गया।


 मुख्य अतिथि के रूप में अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण तथा जनपद न्यायाधीश विनय कुमार द्विवेदी ने नरसिंग का कोर्स कर रहे छात्राओं को विशेष जिम्मेदारी के साथ बताया कि आप लोग का पेसा बेहद महत्वपूर्ण है।आप लोंगों को भगवान के दूसरे रूप में जाना जाता हैं। ऐसे में समाज में और जिम्मेदारी के साथ कार्य करना पड़ता है।भ्रूण  हत्या जैसे महा पाप कार्य को रोकने के लिए जागरुक करने की जिम्मेदारी आप पर है। आप लोंगों के लिए कानूनी जानकारी के लिए समय समय पर विभिन्न कार्यक्रमो के द्वारा न्यायपालिका आपके पास पहुँच रही है।


वही अपर सत्र न्यायाधीश जगदीश प्रसाद ने कहा कि महिलाओं को संपति में बराबरी का भी अधिकार कानून ने दिया है यही नही विशेष परिस्थिति में क्षतिपूर्ति का भी अधिकार महिलाओं के प्राप्त है। सूर्यास्त के बाद महिलाओं की गिरफ्तारी नहीं की जा सकती है। इस अवसर पर एफ़सीटी प्रथम मुन्ना प्रसाद ने महिलाओं को पारिवारिक मामले में कानूनी पचड़े में कम पड़ने की सलाह दी। कहा कि आपसी छोटे-मोटे विवादों को विवेक एवं संवेदनाओं के अनुसार आपसी सुलह समझौते से हल कर लेना चाहिए क्योंकि अधिकतर मामले मुकदमे बाजी के बाद सुलह के द्वारा ही समाप्त होते हैं। इससे धन एवं संबंधों में खटास आती है। इस अवसर पर सिविल जज सीनियर डिविजन विभांशु सुधीर ने कहा कि लोग न्यायालय को दोष देते हैं कि जल्द फैसला नहीं आता है।लेकिन अनावश्यक विवादों से कोर्ट के समय को जाया किया जाता है। ऐसे विवादों से बचने की जरूरत है। 


इस अवसर पर शासकीय अधिवक्ता शशि शंकर सिंह तथा नर्सिंग कॉलेज के प्रबंधक तक धनंजय सिंह के साथ छात्र-छात्राएं मौजूद रहे।कार्यक्रम का संचालन अधिवक्ता महेंद्र सिंह ने किया।