जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
पहले मना किया फिर बुलाया, इस फोटो के साथ आ गयी प्रभारी मंत्री की सफाई भी
 

चन्दौली जिले के प्रभारी व प्रदेश सरकार में ऊर्जा राज्य मंत्री ने मुख्यमंत्री के साथ अपनी फोटो शेयर करके जिले की मीडिया में चल रही सारी खबरों व अफवाहों का खंडन करते हुए विराम लगाने की कोशिश की है। 

जब चंदौली जिले में प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कई योजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण करने आये हुए थे और उसके बाद उन्हें वाराणसी में भी जाकर कई कार्यक्रमों में शिरकत करना था। इसी कारण से मुख्यमंत्री जी के पास समय कम था और वह केवल कुछ लोगों के हाथों से स्वागत हेतु दिया जाने वाला सम्मान लिया। 

इसी दौरान जब चंदौली के प्रभारी मंत्री व ऊर्जा राज्य मंत्री रमाशंकर सिंह पटेल भी मुख्यमंत्री जी को मोमेंटो और साल देकर सम्मानित करना चाहते थे, लेकिन समय कम होने की वजह से मुख्यमंत्री जी ने कहा कि आप रहने दीजिए। आखिर में आप सभी लोग सम्मानित करिएगा। 

sansad

इसके बाद ऊर्जा राज्य मंत्री अपने मुखिया के आदेशों का पालन करते हुए मंच की कुर्सी पर जाकर बैठ गए। अब इस छोटी सी बात को सोशल मीडिया में गलत अफवाह फैलाया जा रहा है कि ऊर्जा राज्य मंत्री से मुख्यमंत्री जी ने सम्मान में लायी गयी कोई चीज नहीं ली, जबकि मुख्यमंत्री ने ऐसा नहीं किया है।

 सोशल मीडिया में फैली जा रही अफवाहों पर ऊर्जा राज्य मंत्री रमाशंकर सिंह पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री जी हमारे अभिभावक है। वह हम सबके मार्ग दर्शक हैं। उनके आदेशों का पालन करना हमारा कर्तव्य है। कुछ विरोधी पार्टी के लोग गलत अफवाह फैलाकर लोकप्रिय, विकास पुरुष हमारे मुख्यमंत्री जी को बदनाम करने की साजिश रच रहे हैं, जो कि सरासर गलत है और वे लोग कभी अपने इरादों में सफल नहीं हो सकते हैं। 

इसके बाद कहा कि जब सभी के सम्मान को मुख्यमंत्री जी ने कार्यक्रम समापन पर स्वीकार किया तो सबके साथ फोटो भी खिंचवायी और यही कार्य मेरे साथ भी किया है। आप लोग इस फोटो को देख सकते हैं। यह अफवाहों का खंडन के लिए काफी है।