जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
चोरों ने के निशाने पर बकरा-बकरी, 4 दिन में चार गांव से 22 बकरा-बकरी गायब
करनौल गांव निवासी सुनील चौहान की घर बंधी बकरी सोमवार की रात में ताला तोड़कर चुरा ले गये। मंगलवार की भोर में चारा देने के दौरान बकरी गायब देख परिजनों में हड़कंप मच गया।
 

शहाबगंज इलाके में घूम रहे बकरा-बकरी चोर

चोरी की घटनाओं से पशुपालक परेशान

पुलिस बनी हुयी है उदासीन

 

चंदौली जिले के शहाबगंज थाना क्षेत्र के विभिन्न गांवों में बकरी-बकरा चोरों का गिरोह घूम रहा रहा हो, जो किसानों व गरीबों के बकरी-बकरा को निशाना बना रहा है। इलाके में कुल मिलाकर चार दिनों में 22 जानवर चोरी हो चुके हैं। आए दिन हो रही चोरी की घटनाओं से पशुपालक परेशान हैं। वहीं लिखित सूचना देने के बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं।

करनौल गांव निवासी सुनील चौहान की घर बंधी बकरी सोमवार की रात में ताला तोड़कर चुरा ले गये। मंगलवार की भोर में चारा देने के दौरान बकरी गायब देख परिजनों में हड़कंप मच गया। पीड़ित सुनील चौहान बताया कि सोमवार की रात में 8 बकरी व 4 बड़े खस्सी रस्सी में बांधकर चारा पानी देकर दरवाजा बंद कर बाहर हो गया। रात में चोर ताला तोड़कर सभी बकरियों को चुरा ले गये। भुक्तभोगी ने 112 पर बकरी चोरी की सूचना दिया।

वहीं बड़गांवा गांव निवासी जमील भी बकरी रखे थे। उन्होंने सभी बकरियों को सोबन्था गांव स्थित पेट्रोल पम्प के पास बांधे थे। सभी चार बकरियों को बीती रात चुरा ले गये। वहीं एकौना गांव के सरजूराम की भी एक बकरी व एक खस्सी रविवार की भोर में चुरा ले गये। पीड़ित ने लिखित तहरीर थाने पर दिया है। दूसरी तरफ चार दिन पूर्व भी अमांव गांव निवासी विजयी चौहान की भी चार बकरियों को चोर चुरा ले गये हैं। क्षेत्र में बकरी चोरी की बढ़ रही और अमांव के ठकुरी प्रसाद की टाली दरवाजे पर से बुलंद चोरों ने उड़ा ले गए हैं।

चोरी की  घटनाओं को देखते हुए ग्रामीणों में दहशत व्याप्त है। ग्रामीणों ने प्रशासन से पुलिस गस्त बढ़ाने के साथ गांव में नियुक्त चौकीदारों को और भी एक्टिव रहने की मांग किया। जिससे चोरी की घटनाओं को रोका जा सके।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*