जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime

चंदौली के इस दर्दनाक हत्याकांड में मिली दोनों हत्यारों को आजीवन कारावास की सजा

17 सिंतबर 2020 आज मेरे पुत्र के मोबाईल नम्बर से मेरे मोबाईल नम्बर पर फोन आया और किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा बोला गया कि उसने मेरे लड़के को अपने कब्जे में रखा है। बीस लाख रूपये और जमीन देने पर ही छोड़ेंगा।
 

सिगरेट के विवाद में आपस में मारपीट व हत्या

हत्या के बाद लाश को जमीन में गाड़ा

ऐसे खुला था हत्यारों का राज

लगभग 3 साल बाद मिली है गुनाहों की सजा

ऑपरेशन कन्विक्शन कर रहा है तेजी से काम

चंदौली जिले की सदर कोतवाली इलाके बिछियां में घटित हत्या की घटना में दोषसिद्ध होने के बाद दोनों हत्यारों को आजीवन कारावास की सजा सुनायी गयी है। इन दोनों ने अपने दोस्त की हत्या करने के बाद जमीन में गाड़ दिया था और पिता से फोन करके 20 लाख की फिरौती भी मांगी थी।

जानकारी में बताया जा रहा है कि 17 सितंबर 2020 को हुयी हत्या की घटना के संबन्ध में आरोपी अमित कुमार उर्फ गोलू पुत्र रामजनम निवासी गोकुलपुर थाना चन्दौली और कन्हैया खरवार पुत्र मुन्ना खरवार निवासी झांसी थाना चन्दौली के विरुद्ध थाना कोतवाली चन्दौली में मुकदमा अपराध संख्या 182/20 धारा 302, 304, 201 भादवि अभियोग पंजीकृत किया गया था।

इसी मामले में मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार पुलिस महानिदेशक महोदय द्वारा चलाए जा रहे 'आपरेशन कन्विक्शन' के तहत चन्दौली पुलिस के थाना स्थानीय एवं मानिटरिंग सेल द्वारा अभियोजन विभाग से समन्वय करके समयबद्ध रूप से साक्षियों का साक्ष्य कराकर प्रभावी पैरवी किए जाने के फलस्वरूप 19 अगस्त को जिला एवं सत्र न्यायाधीश के द्वारा आरोपी  अमित कुमार उर्फ गोलू पुत्र रामजनम निवासी गोकुलपुर थाना चन्दौली जनपद चन्दौली को आजीवन कारावास के साथ-साथ 75 हजार रुपए के अर्थदण्ड से दण्डित किया गया है।  वहीं मामले में दूसरे आरोपी कन्हैया खरवार पुत्र मुन्ना खरवार निवासी झांसी थाना चन्दौली को भी आजीवन कारावास व 75 हजार के दंड की सजा सुनायी गयी है।

चंदौली जिले के बिछिया कला निवासी नन्दलाल जायसवाल पुत्र बाबूनन्दन जायसवाल ने थाना कोतवाली चन्दौली में दिनांक 17 सितंबर 2020 को लिखित तहरीर दी गई कि उनके बेटे सिद्धार्थ जायसवाल उर्फ वीरू जायसवाल  (उम्र 20 वर्ष) दिनांक 15 सितंबर 2020 को घर से 10. 00 बजे सुबह बिना बताये निकल गया था और अभी तक घर वापस नहीं आया है। अपने गांव तथा नाते रिश्तेदारी में पता कर लेने के बाद भी उसका कोई पता नहीं चला।

उसके बाद 17 सिंतबर 2020 आज मेरे पुत्र के मोबाईल नम्बर से मेरे मोबाईल नम्बर पर फोन आया और किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा बोला गया कि उसने मेरे लड़के को अपने कब्जे में रखा है। बीस लाख रूपये और जमीन देने पर ही छोड़ेंगा। उक्त तहरीर के आधार थाना कोतवाली चन्दौली में अभियोग पंजीकृत कर उच्चाधिकारीगण के निर्देशानुसार पुलिस टीमों द्वारा लड़के की तलाशी व बरामदगी का हर सम्भव प्रयास शुरू किया गया।
 
मामले में विवेचना के दौरान गवाहों के बयान के आधार पर घटना करने वाले अभियुक्तगणों अमित कुमार उर्फ गोलू एवं कन्हैया खरवार का नाम प्रकाश में आया। मुखबिर की सूचना के आधार पर दिनांक 18 सितंबर 2020 को अभियुक्तगण अमित कुमार उर्फ गोलू एवं कन्हैया खरवार को चंदौली थाने की  पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार अभियुक्तगण पूछताछ में बताया कि मृतक सिद्धार्थ जायसवाल की अपने बिछियाकलां स्थित मकान में सिगरेट लाने को लेकर हुए विवाद हुआ था। इसके बाद दोनों ने मिलकर चाकू से गला काटकर उसकी हत्या कर दी। उसके शव के उपर नमक व मिट्टी डालकर गड़ढ़े में गाड़ दिया है।

अभियुक्तगण की निशानदेही पर अभियुक्त अमित कुमार उर्फ गोलू के बिछियाकलां स्थित मकान से मृतक सिद्धार्थ जायसवाल का शव और खून लगा हुआ चाकू, कपड़े पर लगा हुआ खून आदि बरामद किया गया। मृतक के पिता व भाई के द्वारा मृतक के शव का पहचान किया गया।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*