जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
माध्यमिक वित्तविहीन शिक्षक महासभा के अध्यक्ष का मुख्यमंत्री योगी के नाम खुला खत
 

चंदौली जिले के शिक्षक नेता व माध्यमिक वित्तविहीन शिक्षक महासभा के अध्यक्ष राजेंद्र प्रताप सिंह ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम एक खुला खत लिखकर माध्यमिक वित्तविहीन शिक्षकों व कर्मचारियों की याद दिलायी है। साथ ही शिक्षक दिवस के मौके पर माध्यमिक वित्तविहीन शिक्षकों व कर्मचारियों के लिए कुछ घोषणाएं करने की मांग की है। 

यह है खत...

आदरणीय मुख्यमंत्री जी,
  उत्तर प्रदेश

पांच सितंबर को अध्यापक दिवस के रूप में मनाया जायेगा। सरकार द्वारा कुछ सवित्तीय गुरुजनों को सम्मानित किया जाएगा। ऐसे में पूरे प्रदेश में 80 प्रतिशत शिक्षा की जिम्मेदारी उठाने वाले शिक्षकों एवं कर्मचारी इस सम्मान से भी वंचित रह जाएंगे। आपके पास माध्यमिक वित्तविहीन शिक्षकों व कर्मचारियों के लिए कोई योजना है या नहीं, हम सब संम्मान पाने के अधिकारी नहीं हैं क्या..?

माननीय मुख्यमंत्री जी


, आप से नम्र निवेदन है कि हम वित्तविहीन साथियों के लिए भी कोई योजना अमल में लाएं व शिक्षक दिवस के दिन हमारी आवश्यक आवश्यकता को पूर्ण करने की दरियादिली दिखाकर संम्मानजनक मानदेय देने की घोषणा करें।

 अगर आप ऐसा करते हैं तो आप एक ऐतिहासिक मुख्यमंत्री होंगे। हम सब आप को विश्वास दिलाते हैं कि शिक्षा को ऊंचाइयों पर ले जाने की कोशिश करेंगे। 


आज हम सब एक रोटी के लिए तरस रहे हैं। माता पिता की दवाई के लिए भटक रहे हैं। अपने बच्चों की आवश्यक आवश्यकताओं को भी नहीं पूर्ण कर पा रहे हैं, जबकि जी-तोड़ परिश्रम कर आठों घंटे पढ़ा रहे हैं। अच्छा परिणाम भी दे रहे हैं।

 हम सब इतने दुखी हैं। कह नहीं पा रहे हैं। सरकार हम लोगों की तरफ देखना भी पसंद नहीं कर रही है। 


आप से हम सबको बहुत उम्मीद है और आशा भी है कि आप कुछ हम सबके भविष्य को संवारने का काम अवश्य करेंगे।


आपका  
राजेंद्र प्रताप सिंह
अध्यक्ष

माध्यमिक वित्तविहीन शिक्षक महासभा
 
उत्तर प्रदेश