जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
जीवित्पुत्रिका के दिन नदी में डूबे बच्चे की नहीं मिला लाश, दिनभर खोजती रही एनडीआरएफ की टीम
ह गंगा स्नान करने के लिए नदी में उतर गया। नहाते नहाते वह गहरे पानी में उतर गया और डुबने लगा। लोगों ने हो हल्ला मचाया किन्तु अंधेरा होने के कारण कोई नदी में नहीं उतरा। 
 

चंदौली जिले के बलुआ थाना क्षेत्र के मारूफपुर पुलिस चौकी अन्तर्गत निधौरा गांव निवासी ज्ञानचन्द्र गौड़ उर्फ गुड्डु का 12 वर्षीय पुत्र कल्लू गौड़ बीते रविवार की देर शाम गंगा नदी में नहाते समय डूब गया था। डूबे हुए बालक के शव की तलाश जारी है, क्योंकि सोमवार को एनडीआरएफ की टीम के साथ बलुआ पुलिस तलाशी में अभी तक उसका कोई पता नहीं चला है। 

Kallu Gaud Drowned

बताया जा रहा है कि बच्चा अपनी मां के साथ जीवित्पुत्रिका व्रत पूजन के लिए गंगा घाट पर गया था। निधौरा गांव निवासी ज्ञानचन्द्र गौड़ के तीन संतानों में दूसरे नंबर का कल्लू गौड़ (12 वर्ष) अपनी मां के साथ रविवार को गांव के सामने स्थित गंगा घाट पर जीवित्पुत्रिका पूजन में गया था। देर शाम तक चले पूजन कार्य में जब उसकी मां पूजन कार्य में व्यस्त हो गई तो वह गंगा स्नान करने के लिए नदी में उतर गया। नहाते नहाते वह गहरे पानी में उतर गया और डुबने लगा। लोगों ने हो हल्ला मचाया किन्तु अंधेरा होने के कारण कोई नदी में नहीं उतरा। 

सूचना पाकर मौके पर पहुंचे चौकी इंचार्ज दीपक पाल ने देर रात तक खोजबीन कराने की कोशिश की, लेकिन सफलता नहीं मिली। सोमवार की सुबह से शाम तक एनडीआरएफ की टीम के साथ पुलिस बल बालक की तलाश में लगी रही, लेकिन समाचार लिखे जाने तक कोई पता नहीं चला। 

वहीं डूबे बालक के पिता व मां कृष्णावती देवी, बड़े भाई विशाल गौड़ व बहन आंचल का रो रोकर बुरा हाल है और इस अनहोनी पर भगवान को कोस रहे हैं।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*