जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
नाविकों ने गंगा में डूब रहे रामध्वज की बचायी जान, जल पुलिस चौकी की मांग
इस बीच समिति के अध्यक्ष और नाविक नाव के सहारे उन्हें बाहर से निकाला। उन्हें बलुआ स्थित एक निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।
 

चंदौली जिले के बलुआघाट पर बुधवार को गंगा में स्नान करने आये 70 वर्षीय रामध्वज का पैर फिसल गया और वह गहरे पानी में चले गए और डूबने लगे। घाट पर मौजूद गंगा सेवा समिति के अध्यक्ष दीपक जायसवाल की जैसे नजर पड़ी। उन्होंने नाविकों की मदद से उन्हें पकड़कर किसी तरह बाहर निकाला। तब जाकर उनकी जान बची। बाद में उन्हें एक निजी हॉस्पिटल में भर्ती कराया। अब उनकी हालत ठीक बतायी जा रही है।


बलुआ स्थित पश्चिम वाहिनीं गंगा तट पर स्नान करते समय रामध्वज का अचानक पैर फिसल गया और वह गहरे पानी में डूबने लगे। गंगा की धारा में हांथ पैर चलाने लगे। यह देखकर घाट पर मौजूद नाविक और समित के अध्यक्ष दीपक जायसवाल की नजर पड़ गई। लोगों ने शोर मचाना शुरू किया। इस बीच समिति के अध्यक्ष और नाविक नाव के सहारे उन्हें बाहर से निकाला। उन्हें बलुआ स्थित एक निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। फिलहाल उनकी तबियत ठीक है।

 इस दौरान अध्यक्ष दीपक जायसवाल ने कहा कि यहां प्रतिदिन सैकड़ों लोग बाढ के मौसम में भी स्नान करने आते है। यहां जल पुलिस चौकी के लिए जिला प्रशासन से कई बार कहा जा चुका है। इसके लिए प्रस्ताव भी शासन को भेजा जा चुका है। लेकिन अब तक इसका इंतजाम नहीं हो पाया है।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*