जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
खर्राटा मारने वाले अध्यापक बृजेश सिंह पर गिरी गाज, हो गए सस्पेंड
 

चंदौली जिले के धानापुर ब्लाक के किशुनपुरा गांव के उच्च प्राथमिक विद्यालय के खर्राटा मारने वाले प्रभारी प्रधानाध्यापक को निलंबन पत्र थमा दिया गया है और वह अब धानापुर ब्लाक के बीआरसी से संबद्ध रहेंगे। जिले के बेसिक शिक्षा अधिकारी सत्येन्द्र सिंह ने कहा कि फोटो वायरल होने व मामले की जांच के बाद संबंधित अध्यापक को निलंबित कर दिया गया है।

चंदौली जिले के धानापुर ब्लाक के किशुनपुरा कम्पोजिट विद्यालय के प्रभारी प्रधानाध्यापक बृजेश सिंह सोमवार को विद्यालय में खर्राटा मार कर सोते हुए पाये गये, जिसको लेकर गांव में तरह तरह की चर्चाएं व्याप्त हैं। 

आपको बता दें कि सोमवार को गांव से मिली खबरों में बताया जा रहा है कि कम्पोजिट विद्यालय किशुनपुरा में कोविड टीकाकरण का कैम्प लगा हुआ था, जिसमें गांव के लोग आकर अपना टीकाकरण करा रहे थे। गांव के ही एक व्यक्ति ने विद्यालय में देखा कि स्कूल के प्रभारी प्रधानाध्यापक बखूबी कुर्सी पर बैठकर टेबल पर पैर फैलाकर खर्राटा मार कर सो रहे है। ड्यूटी पर स्कूल के प्रधानाध्यापक को इस हालत में देखकर व्यक्ति बहुत ही आश्चर्यचकित हुआ और मास्टर साहब की फोटो खींच ली थी।

उसके बाद उक्त प्रधानाध्यापक ने मामले में लीपापोती करने की कोशिश की थी, लेकिन लोगों का कहना था कि अगर ऊक्त मास्टर को निलंबित नहीं किया जाता है तो वह धरना प्रदर्शन करने का काम करेंगे। उसी को देखते हुए जिले के बेसिक शिक्षा अधिकारी ने निलंबित कर दिया है।

बेसिक शिक्षा अधिकारी ने कहा कि ऐसी हरकत कभी भी बर्दास्त नहीं की जाएगी। हमारी प्राथमिकता शिक्षा व्यवस्था को सुधारने की है। ऐसे लापरवाह अध्यापकों को कार्यशैली बदलनी होगी।