जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
बजट खपाने के लिए मुजैक पर लगा दी टाइल्स, खानापूर्ति देख भड़कीं भारत सरकार की अफसर
चंदौली जिले को आकांक्षात्मक जिला घोषित किया गया था तो उम्मीद जतायी गयी थी, यहां पर बुनियादी सेवाओं को मजबूत बनाया जाएगा और जिले के तमाम क्षेत्रों में बेहतरीन काम होंगे।
 

बुनियादी सेवाओं को मजबूत बनाया जाएगा

कमीशनखोरी व बजट खपाने की मंशा भांप ली

चंदौली जिले को आकांक्षात्मक जिला घोषित किया गया था तो उम्मीद जतायी गयी थी, यहां पर बुनियादी सेवाओं को मजबूत बनाया जाएगा और जिले के तमाम क्षेत्रों में बेहतरीन काम होंगे। लेकिन बजट खपाने व सरकारी धन के दुरुपयोग में अफसर व विभागीय कर्मचारी कोई कोरकसर नहीं छोड़ते हैं। यह गड़बड़ी जिले के अफसर भले न पकड़ पाए हों, लेकिन भारत सरकार की ओर से जांच पड़ताल के लिए आयीं कामिनी चौहान रतन ने चकिया के अस्पताल में फर्श पर लगे मुजैक पर टाइल्स लगाकर पैसे खपाने की कोशिशों पर जमकर नाराजगी दिखायी। 

Kamini Ratan Chauhan Niti Ayog Chandauli Inspection

कामिनी चौहान रतन ने वहां मौजूद अधिकारियों से पूछा कि ....यह क्या, मुजैक पर टाइल्स। धन अपव्यय ठीक नहीं है। मुजैक क्षतिग्रस्त भी नहीं है। यह अरसे तक बेहतर रह सकता है। बावजूद इसके इसे उखाड़े बगैर बालू सीमेंट लगाकर टाइल्स लगा देना समझ से परे है। भारत सरकार की संयुक्त सचिव शिक्षा कामिनी चौहान रतन ने मंगलवार की शाम चकिया नगर इलाके में स्थित जिला संयुक्त चिकित्सालय के निरीक्षण के दौरान फर्श पर लगे मुजैक पर टाइल्स लगाने का काम व तरीका देखकर कमीशनखोरी व बजट खपाने की मंशा भांप ली। 

कामिनी चौहान रतन ने इस मामले में संबंधित इंजीनियर से इस बाबत कड़ी पूछताछ की। नवजात शिशु गहन चिकित्सा कक्ष, आक्सीजन प्लांट आदि का हाल जाना व आवश्यक दिशा निर्देश दिया। कहा नीति आयोग द्वारा संचालित योजनाओं को सही तरीके से अमलीजामा पहनाया जाए। 

इस मौके पर अस्पताल के सीएमएस डा. अजय सिंह ने बताया कि पांच चिकित्सक सहित स्टाफ नर्स की कमी है, जिससे बेहतर सेवा सुविधा देने में परेशानी होती है। 

बताया जा रहे है कि  पूर्व बबुरी क्षेत्र के बनौली कला में प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालयों में उन्होंने नीति आयोग के अंतर्गत बच्चों के लिए फर्नीचर की व्यवस्था एवं उपस्थित बच्चों से पूछताछ कर पढ़ाई की गुणवत्ता की जानकारी ली। विद्यालय में शिक्षा सचिव द्वारा अध्यापकों की डेली डायरी, टाईम टेबल, स्मार्ट क्लास आदि का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। उन्होंने विद्यालय के शौचालयों की साफ-सफाई व बच्चों के पढ़ाई पर विशेष ध्यान दिए जाने के निर्देश संबंधित अध्यापकों एवं खंड शिक्षा अधिकारी को दिया। संयुक्त सचिव शिक्षा द्वारा अपने भ्रमण के दौरान ग्राम सीकरी स्थित माडल पंचायत भवन का निरीक्षण किया गया। यहां कंप्यूटर कक्ष सभागार परिसर की साफ-सफाई आदि व्यवस्थाओं का अवलोकन किया तथा ग्राम पंचायत सचिवालय द्वारा किए जाने वाले कार्यो के विषय में पंचायत सहायक से जानकारी ली। 

इस दौरान उनके साथ मुख्य विकास अधिकारी अजितेंद्र नारायण, अपर जिलाधिकारी (वि0 रा0) उमेश मिश्रा, तहसीलदार आलोक कुमार, अवधेश सिंह आदि रहे।