जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
स्वागत समारोह में जमकर बोले मंत्री अनिल राजभर, लोकसभा में 75 सीटें का कर रहे दावा
 श्रम एवं सेवायोजन मंत्री अनिल राजभर ने कहा कि चंदौली जिले के हर एक गांव गरीब और इंसाफ की लड़ाई केवल भाजपा ही लड़ रही है। सभी विरोधी पार्टियां एक दूसरे को लड़ाने का कार्य कर रही हैं।
 

विरोधी दलों को निशाने पर रखकर बोले मंत्री

दलों ने पिछड़ों को केवल इस्तेमाल करके छोड़ दिया

मोदी सरकार दे रही उनका ध्यान

होगा सबका साथ और सबका विकास

 चंदौली जिले के रहने वाले प्रदेश सरकार के श्रम एवं सेवायोजन मंत्री अनिल राजभर का बबुरी इलाके के भंवतपुरा गांव में सम्मान समारोह आयोजित किया गया, जहां उन्होंने सरकार की तारीफ करके विरोधियों पर निशाना साधा। 

 श्रम एवं सेवायोजन मंत्री अनिल राजभर ने कहा कि चंदौली जिले के हर एक गांव गरीब और इंसाफ की लड़ाई केवल भाजपा ही लड़ रही है। सभी विरोधी पार्टियां एक दूसरे को लड़ाने का कार्य कर रही हैं। प्रदेश में समग्र विकास की मुहिम चल रही है।

Minister Anil Rajbhar  

 श्रम एवं सेवायोजन मंत्री अनिल राजभर ने कहा कि पूरे प्रदेश में मोदी विजन का महीना चल रहा है। 2024 के लोकसभा चुनाव में कम से कम 75 सीटें उत्तर प्रदेश में लोकसभा का जीतने का लक्ष्य रखा गया है। उसी लक्ष्य पर काम हो रहा है। अति दलित अति पिछड़ा वर्ग का सभी वर्ग के लोगों ने इस्तेमाल किया, लेकिन उनकी भलाई के लिए किसी भी पार्टी ने काम नहीं किया, सिर्फ उनका वोट बैंक की तरह इस्तेमाल किया।
 Minister Anil Rajbhar


प्रधानमंत्री के अभियान के साथ पूरा पिछड़ा वर्ग लगा हुआ है तथा भाजपा की असली ताकत बनकर उभरा है। कई ताकतें इन्हें गुमराह कर रही हैं,  परंतु वे सफल नहीं होंगी। जब तक यह तबका मोदी जी को प्रधानमंत्री के रूप में पुनः स्थापित नहीं कर लेगा। तब तक चैन से नहीं सोएगा। पूरे प्रदेश में इन्वेस्ट के मामले में पूरे देश में उत्तर प्रदेश 14 में नंबर पर था, पर आज दूसरे नंबर पर आ गया है। सरकार की यह बहुत बड़ी उपलब्धि है। प्रदेश में उद्योग का क्लक्टर बनेगा, जिससे मजदूरों का पलायन रुकेगा।

 100 दिनों में प्रदेश सरकार ने 10 हजार सरकारी नौकरियां तथा प्राइवेट सेक्टर में 50,000 नौकरिया देकर एक मिसाल कायम की है। सरकार ने गरीबों किसानों के कल्याण के लिए विभिन्न योजनाओं पर काम किया है। हर खेत को पानी व हर गरीब को काम दिलाना सरकार की प्राथमिकता है।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*