जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
विधायक प्रभु नारायण यादव के एक्टिव होते ही पुलिस ने दिया 10 दिन में कार्रवाई का भरोसा

मामले में सकलडीहा के विधायक प्रभुनारायण यादव के एक्टिव होने व धरना स्थल पर पहुंचने के बाद पुलिस के आलाधिकारियों ने सक्रियता दिखाई है...

 

दिखा सपा के नेता की सक्रियता का असर

जानबूझकर मामले को हल्के में ले रही है पुलिस

कार्रवाई न होने पर होगा विरोध प्रदर्शन

चंदौली जिले के बलुआ क्षेत्र के ग्राम प्रधानों ने शनिवार को भी कैलावर चौकी इंचार्ज के निलंबन की मांग को लेकर धरना दिया और सारे प्रधानों ने एक सुर से कहा कि उनका आंदोलन तब तक जारी रहेगा जब तक चौकी प्रभारी का निलंबन नहीं हो जाता। 

आरोप लगाया कि चौकी प्रभारी ने इटवा प्रधान से दु‌र्व्यवहार करने के साथ साथ गांव में जाकर गालीगलौच की थी और उसके बाद थाने में लाकर उनकी पिटाई भी की थी। कहा जा रहा है कि मामले में सकलडीहा के विधायक प्रभुनारायण यादव के एक्टिव होने व धरना स्थल पर पहुंचने के बाद पुलिस के आलाधिकारियों ने सक्रियता दिखाई है।

बता दें कि इटवा ग्राम प्रधान सिद्धार्थ मौर्या द्वारा गांव में सामुदायिक शौचालय के निर्माण को लेकर कुछ अराजकतत्वों से विवाद हो गया, प्रधान ने 29 अगस्त की रात पुलिस को इसकी सूचना दी। मौके पर पहुंचे कैलावर चौकी प्रभारी शिवमणि त्रिपाठी ने कार्रवाई के नाम पर प्रधान के साथ दुर्व्यवहार किया, साथ ही उन्हें थाने ले जाकर बदसलूकी की। 

जानकारी होने पर प्रधान संघ का एक प्रतिनिधि मंडल जिलाधिकारी के साथ पुलिस अधीक्षक से मिला और उन्हें पूरी घटनाक्रम से अवगत कराया। लेकिन एक माह बाद भी कोई कार्रवाई न होने पर नाराज प्रधान संघ 28 सितंबर को संघ के बैनर तले खंड विकास सभागार में बैठक किया।

ग्राम प्रधानों के आक्रोश व बढ़ रही भीड़ की सूचना पर पहुंचे अपर पुलिस अधीक्षक दयाराम ने धरनारत प्रधानों को आश्वासन दिया कि 10 दिन में जांच कर कार्रवाई कर दी जाएगी। कार्रवाई न होने पर दोबारा धरना की चेतावनी के साथ प्रधानों ने धरना समाप्त किया। 

इस दौरान ग्राम विकास अधिकारी, ग्राम पंचायत अधिकारी संघ, तकनीकी सहायक, रोजगार सेवक संघ ,सफाई कर्मी संघ, मनरेगा संघ आदि के कार्यकर्ता शामिल थे।