जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
अब स्वास्थ्य विभाग में बाबू व चपरासी को भी 50 वर्ष बाद किया जाएगा सेवानिवृत्त
 


चंदौली जिले में अब पुलिस विभाग के बाद स्वास्थ्य विभाग में भी छटनी का हंटर चलना शुरू हो गया है। जिस के संबंध में शासन द्वारा मुख्य चिकित्सा अधिकारी को पत्र भी जारी हो गया है।

 
बताते चलें कि 50 वर्ष की आयु पूर्ण करने के बाद कार्य में असमर्थ एवं भ्रष्टाचारी कर्मचारियों को पेंशन देने की योजना पुलिस विभाग में चल रही थी लेकिन अब उत्तर प्रदेश सरकार ने 50 वर्ष की आयु पूर्ण कर लेने के बाद कार्य में लापरवाही व असमर्थ होने वाले तथा भ्रष्टाचारी कर्मचारियों का 50 वर्ष के बाद रिटायरमेंट करने की योजना स्वास्थ्य विभाग में भी लागू हो गई है । जिसके लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी को सूची बनाने के लिए शासन द्वारा पत्र भी प्राप्त हो चुका है। इसमें स्वास्थ्य कर्मी क्लर्क और चपरासी को इसके अंतर्गत रखा गया है ।


इस संबंध में मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि शासन के पत्र प्राप्त हो चुके हैं और कर्मचारियों की सूची बनाने की कार्यवाही शुरू कर दी गई है। जिसमे जागी एवं भ्रष्टाचारी तथा कार्य करने में अक्षम कर्मचारियों की सूची बनाकर शासन को भेजी जाएगी।