जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
देखिए वीडियो : शिव मंदिर में चर्च चलाने वाले रामाश्रय ने की तोड़फोड़, मचा हंगामा व बवाल
कोतवाली की नवहीं गांव में चर्च संचालक द्वारा धर्म परिवर्तन कराने के आरोप पहले भी लगते रहे हैं। इसी नवहीं गांव का रहने वाला रामाश्रय पिछले कई सालों से चर्च चलाने का काम करता है। वह वहां पर वह गांव के गरीब लोगों को अक्सर बुलाया करता है।
 

चंदौली के इस गांव में धर्म परिवर्तन का माहौल, इसाई स्कूल कर रहे फंडिंग

शिव मंदिर में कुछ अराजक तत्वों द्वारा तोड़फोड़

तोड़फोड़ करने वाला हिरासत में ले लिया गया

चंदौली जिले के नवहीं गांव में शिव मंदिर को तोड़े जाने पर ग्रामीणों में आक्रोश देखा जा रहा है। बताया जा रहा है कि मंदिर में तोड़फोड़ करने वाला रामाश्रय नाम का व्यक्ति है, जो शायद नशे की हालत में बीती रात ऐसी हरकत की है। फिलहाल पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है।

Hanuman Chalisa on the Road


जानकारी के अनुसार चंदौली जिले की सदर कोतवाली क्षेत्र के नवहीं गांव में शिव मंदिर में कुछ अराजक तत्वों द्वारा तोड़फोड़ किए जाने की सूचना मिलते ही स्थानीय लोग व भाजपा के नेता व कार्यकर्ता एकत्रित हो गए। मामले को लेकर आक्रोशित ग्रामीणों ने चंदौली चकिया मार्ग को जामकर दिया। 

सड़क जाम व हंगामे की सूचना पर मौके पर पुलिस भी आ गयी और लोगों को समझाने बुझाने का काम करने लगी। लेकिन गांव के आक्रोशित लोग आरोपी के खिलाफ कार्रवाई पर अड़े रहे। 

MLA Sadhana Singh on Spot

आपको बता दें कि जैसे ही इस हंगामे और बवाल की सूचना पर मिली तुरंत स्थानीय विधायक साधना सिंह भी गांव में पहुंच गई हैं। उन्होंने पहले कार्यकर्ताओं से मामले की जानकारी ली और फिर पुलिस से बातचीत की। मौके पर पहुंची मुगलसराय की विधायक साधना सिंह ने धर्म परिवर्तन के मामले के साथ साथ मंदिर को तोड़ने वाले कार्रवाई की मांग कर रही हैं। साथ ही पुलिस व प्रशासन से धर्म परिवर्तन कराने वाले स्कूलों से होने वाली फंडिंग की भी जांच की मांग की है।


इस संबंध में सदर कोतवाली इंचार्ज उपनिरीक्षक ने बताया कि दलित बस्ती के रामाश्रय ने मंदिर में घुसकर शिव की प्रतिमा तोड़ देने का कार्य किया गया था, जिसे पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया है।  लेकिन ग्रामीणों में आक्रोश वहां बने चर्च को लेकर है, जिस को हटाने के लिए ग्रामीणों द्वारा चक्का जाम कर हटाए जाने की मांग की जा रही थी।  जिसे उच्च अधिकारियों द्वारा इस मामले की जांच कराने की बात कही जा रही है।

चंदौली जिले की सदर कोतवाली की नवहीं गांव में चर्च संचालक द्वारा धर्म परिवर्तन कराने के आरोप पहले भी लगते रहे हैं। इसी नवहीं गांव का रहने वाला रामाश्रय पिछले कई सालों से चर्च चलाने का काम करता है। वह वहां पर वह गांव के गरीब लोगों को अक्सर बुलाया करता है। यहां पर धार्मिक बातें और चर्चाओं के दौरान धर्म परिवर्तन की बातें भी आती हैं। लोगों का आरोप है कि वह गांव के लोगों को बहला-फुसलाकर गुमराह कर रहा है और धर्म परिवर्तन करने का दबाव डाल रहा है।