जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime

चहनिया ब्लॉक की बजट बैठक आज, पुलिस फोर्स लगाकर नजरबंद किए गए उपेन्द्र सिंह गुड्डू

बैठक को शांतिपूर्ण तरीके से निपटाने के लिए बुधवार पूर्व ब्लाक प्रमुख के पति उपेंद्र सिंह गुड्डू सहित पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज भी किया गया था।
 

ब्लॉक प्रमुख अरुण जायसवाल का तख्ता पलटने की कोशिश

बजट सत्र बैठक में होगा शक्ति परीक्षण

उपेंद्र सिंह गुड्डू के घर पुलिस फोर्स है तैनात

घर पर किया गया नजर बंद

चंदौली जिले के चहानिया ब्लॉक पर आज वर्तमान ब्लाक प्रमुख के द्वारा आयोजित बजट सत्र की बैठक को लेकर काफी गहमागामी रहेगी। जिसको लेकर जनपद के कई थानों की फोर्स लगाकर ब्लॉक परिसर को सिक्योर करने की कोशिश की जा रही है। ताकि वहां किसी तरह का हंगामा न हो सके और बैठक को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराया जा सके।

बता दें कि आज चहनिया ब्लॉक परिसर में बजट सत्र की बैठक ब्लॉक प्रमुख अरुण जायसवाल द्वारा बुलायी गई है, जिसको देखते हुए वहां शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए कई थाने की फोर्स भी तैनात की जा चुकी है। वहीं यह भी कहा जा रहा है कि यह बजट सत्र की  बैठक को ब्लॉक की में वर्तमान ब्लाक प्रमुख का शक्ति परीक्षण भी माना जाएगा, क्योंकि इनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को लेकर बीडीसी द्वारा डीएम को शपथ पत्र दिया जा चुका है, जिसको डीएम साहब ने ठंडे बस्ते में डाल दिया था। इसी बात को लेकर लगातार चहनिया ब्लॉक में गहमागहमी चल रही है।

Upendra Singh Guddu

इसी बैठक को शांतिपूर्ण तरीके से निपटाने के लिए बुधवार पूर्व ब्लाक प्रमुख के पति उपेंद्र सिंह गुड्डू सहित पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज भी किया गया था। इसी बात को लेकर क्षेत्र में चर्चाओं के साथ-साथ बीडीसी में भी तरह-तरह की चर्चाएं चल रही हैं।

यहां पर हंगामे व बवाल की संभावनाओं को लेकर चंदौली जिले की पुलिस फोर्स भी अलर्ट मोड में है, ताकि किसी प्रकार का बवाल ने हो। इसके लिए वहां पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स की तैनाती की गई है।

Upendra Singh Guddu

स्थानीय लोगों का कहना है कि इस बजट सत्र में किसी प्रकार का व्यवधान न पैदा हो, जिसके लिए उपेंद्र सिंह गुड्डू के घर पर भी फोर्स लगा दी गई है। कहा जा रहा है कि ऐसा करके उनको नजरबंद करने की कोशिश की गयी है।  

Upendra Singh Guddu

अब देखना है कि किस प्रकार चहनियां ब्लॉक का बजट सत्र की बैठक कैसे संपन्न होती है और कौन विपक्ष के हंगामेदार बनाने की मंशा पूरी होती है या ब्लॉक प्रमुख अरुण जायसवाल अपनी कुर्सी बचा ले जाते हैं।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*