जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
..तो क्या सांसद जी के पास इन दो कामों के लिए 10 मिनट का समय है, पूछ रही है जनता व किसान
चंदौली जिले के सांसद और मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडेय आज अपने संसदीय क्षेत्र चंदौली जिले के एक दिवसीय दौरे पर आ रहे हैं
 

ओवर ब्रिज व काला चावल का हाल देखने की अपील

सांसद जी इन दो कामों को भी दे समय 

चंदौली जिले के सांसद और मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडेय आज अपने संसदीय क्षेत्र चंदौली जिले के एक दिवसीय दौरे पर आ रहे हैं और वह इस दौरान खेलकूद प्रतियोगिता का शुभारंभ करने के अलावा कई अन्य कार्यक्रमों में भाग लेंगे।

इस दौरान चंदौली की जनता चाहती है कि मंत्री जी चंदौली वाले ओवर ब्रिज का निरीक्षण करके इसके शुभारंभ करने की तारीख फिक्स कर दें, तो वहीं काला चावल वाले धान की खेती करने वाले किसान चाहते हैं कि एक बार मंडी समिति में एक साल से खराब हो रहे उनके धान को जरूर देख लें। स्थानीय लोगों का कहना है कि चंदौली के सांसद व कैबिनेट मंत्री का प्रोटोकॉल आ गया है और वह इसी के अनुसार अपने कार्यक्रमों में भाग लेंगे लेकिन अगर वह जनता व किसानों की मांग पर अपने प्रोटोकॉल को तोड़ देंगे तो बड़ा अच्छा होगा। 

इस दौरान किसानों की मांग है कि सांसद जी थोड़ी देर के लिए समय निकाल कर चंदौली जिले की मंडी समिति का भी दौरा कर लें, जहां पर काला चावल बनाने के लिए धान पिछले 1 साल से इकट्ठा करके रखा हुआ है। ना तो उसका कोई खरीदार मिल रहा है और ना ही उस पर किसी तरह की ठोस पहल हो रही है। वहां रखे चावल को चूहे, जानवर और चिड़िया खा रही हैं।

किसानों ने कहा कि सांसद जी के अलावा प्रदेश के कई बड़े बड़े नेता और चंदौली जिले के अफसर अक्सर बड़े-बड़े मंचों पर और कार्यक्रमों में चंदौली जिले के काले चावल की उपयोगिता और गुणवत्ता की बात तो खूब करते हैं, लेकिन काला चावल का उत्पादन करने वाले किसानों की समस्याओं के बारे में सुनने की कोई पहल नहीं होती है। अगर गलती से किसी ने कोई बात सुन भी ली तो उसके निराकरण के लिए जिस तरह की कोशिश होनी चाहिए..वह नहीं की जाती है। 

इसलिए चंदौली जिले के लिए का काले चावल वाले धान की खेती करने वाले किसानों की मांग है कि एक बार 5 मिनट का समय निकालकर आप मंडी समिति का दौरा जरूर करें और वहां रखे काले चावल वाले धान की दशा और दुर्दशा का निरीक्षण कर लें। इससे आपको भी चंदौली जिले के इस खास प्रोडक्ट की अहमियत के बारे में पता चल जाएगा और वहां पर किसानों की रखी गाढ़ी कमाई किस तरह से बर्बाद हो रही है.. यह भी जान जाएंगे।

वहीं चंदौली जिले के मुख्यालय पर रहने वाले लोगों के साथ साथ व्यापारियों की मांग है कि सांसद जी को थोड़ी देर के लिए ओवर ब्रिज के काम काज की जांच पड़ताल कर लेनी चाहिए और कामकाज की गति को देखते हुए पुल के शुभारंभ की तारीख फिक्स कर देनी चाहिए ताकि लोगों को भरोसा हो सके कि सांसद जी चंदौली को इस ओवर ब्रिज को इस साल शुरू करवा देने के लिए वाकई गंभीर हैं।