जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
चुनाव ड्यूटी के लिए अभी से हो रही तैयारी, हर किसी को देना होगा वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट
 

चंदौली जिले में विधानसभा चुनाव के दौरान मतदान कार्मिक के तौर पर ड्यूटी करने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए कोरोनारोधी वैक्सीन की डबल डोज लगवाना अनिवार्य होने जा रहा है। इसके लिए निर्वाचन आयोग ने अभी से जोर देना शुरू कर दिया है और अफसर भी उसी के अनुरूप काम शुरू कर रहे हैं। 

निर्वाचन आयोग की मंशा को देखते हुए जिला निर्वाचन अधिकारी ने सभी विभागाध्यक्षों को पत्र जारी कर निर्देशित किया है कि दिसंबर 2021 तक अधीनस्थों को हर हाल में वैक्सीन की दोनों डोज लगवाना सुनिश्चित कर लें क्यों कि चुनाव में उनकी ड्यूटी लगाने की यह अनिवार्य शर्त होगी। हर किसी को कोरोना को लेकर विशेष सतर्कता बरतनी जरूरी है। 

आपको बता दें कि विधानसभा चुनाव 2022 में फरवरी अथवा मार्च माह में कराए जा सकते हैं। इसको लेकर आयोग तैयारी में जुटा हुआ है। कोरोना का खतरा अभी पूरी तरह से टला नहीं है। इसका साया विधानसभा चुनाव पर भी देखने को मिल सकता है। ऐसे में संक्रमण को लेकर विशेष सतर्कता बरती जा रही है। इसी तरह की चूक की वजह से त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में काफी परेशानी हुई थी। मतदान कार्मिकों को अपनी जान गंवानी पड़ी। इससे सतर्क हुआ आयोग दोबारा ऐसी स्थिति पैदा न होने पाए, इसको लेकर विशेष एहतियात के मूड में है। 

आयोग का स्पष्ट आदेश है कि चुनाव ड्यूटी करने वाले सभी अधिकारी-कर्मचारी को कोरोनारोधी डबल डोज वैक्सीन लगी होनी चाहिए। दिसंबर 2021 तक हर हाल में अफसर-कर्मियों के वैक्सीनेशन की प्रक्रिया पूरी कर ली जाए। ताकि चुनाव के दौरान किसी तरह की बाधा न सामने आने पाए।

Corona Vaccination

देना होगी वैक्सीनेशन प्रमाण पत्र

वैक्सीन की दोनों डोज लगवाने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों को इसका प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा। इसके आधार पर ही पुष्टि की जाएगी कि वैक्सीन लगी है अथवा नहीं। जिला निर्वाचन अधिकारी ने सभी विभागाध्यक्षों को निर्देशित किया है कि आयोग की मंशा के अनुरूप दफ्तर में नियुक्त सभी अधीनस्थों का वैक्सीनेशन कराकर उनके प्रमाण पत्रों के साथ रिपोर्ट भेजें। ताकि आयोग के मांगने पर सूची भेजी जा सके। 

जिलाधिकारी संजीव सिंह ने भी कहा है कि निर्वाचन आयोग ने सभी अधिकारियों-कर्मचारियों को दोनों डोज वैक्सीनेशन कराने का आदेश दिया है। इसको देखते हुए पत्र भेजकर सभी विभागाध्यक्षों को निर्देशित किया गया है। दिसंबर तक टीकाकरण कराकर प्रमाण पत्र के साथ रिपोर्ट देनी होगी। बिना इसके ड्यूटी नहीं लगेगी। इसके लिए सबको तैयार रहना है।