जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
दीपक सिंह अपहरण : BJP के जिला पंचायत सदस्य सहित 3 लोग हिरासत में, मिली है नामजद तहरीर
ऐसी चर्चा है कि सत्ता पक्ष के कई दिग्गज नेताओं का इनके ऊपर वरदहस्त है और उन्हीं की छत्रछाया में वह अपनी राजनीति चमकाने की कोशिश कर रहे हैं।
 

दीपक सिंह के अपहरण का मामला

जिला पंचायत सदस्य के खिलाफ नामजद तहरीर

दीपक सिंह का कोई अता पता नहीं

चंदौली जिले के मुगलसराय इलाके से एक मोबाइल कंपनी के टावर पर टेक्नीशियन और इंजीनियर के रूप में काम करने वाले दीपक सिंह के अपहरण के मामले में भारतीय जनता पार्टी के जिला पंचायत सदस्य समय तीन लोगों को पुलिस ने हिरासत में लेकर मामले में जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

 पुलिस के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार दीपक सिंह के साले से मिली तहरीर के आधार पर पुलिस ने जिला पंचायत सदस्य और उनके लोगों को बलुआ थाना क्षेत्र के पपौरा गांव से बीती रात लगभग आठ बजे के आसपास उठाया है। इस दौरान कई थानों के पुलिसकर्मी साथ थे।

 आपने अभी तक मिली जानकारी के अनुसार दीपक सिंह का कोई अता पता नहीं है और पुलिस मामले में गंभीरता के साथ जांच पड़ताल कर रही है।

Mughalsarai Kidnapping Case

 आपको बता दें कि उठाए गए जिला पंचायत सदस्य चहानियां विकासखंड के सेक्टर 4 से जिला पंचायत सदस्य के पद पर निर्वाचित हुए हैं और इसके पहले भी कई तरह के विवादों में चर्चित रहे हैं। इतना ही नहीं इनके ऊपर चंदौली जनपद के अलग-अलग थानों में आपराधिक मुकदमे भी दर्ज हैं। ऐसी चर्चा है कि सत्ता पक्ष के कई दिग्गज नेताओं का इनके ऊपर वरदहस्त है और उन्हीं की छत्रछाया में वह अपनी राजनीति चमकाने की कोशिश कर रहे हैं।

आपको बता दें कि प्रयागराज जिले के हंडिया निवासी दीपक सिंह निजी मोबाइल टावर कंपनी में इंजीनियर हैं। बुधवार की शाम छह बजे इंजीनियर के साले ने मुगलसराय कोतवाली पुलिस को सूचना दी कि स्कॉर्पियो से वाराणसी जाते समय इंजीनियर का अपहरण हो गया है। उन्होंने बताया कि दीपक सिंह ने उसे फोन कर बताया कि लगता है कि काले रंग के स्कॉर्पियो से कुछ लोग उसका पीछा कर रहे हैं। इसके बाद
गाड़ी में मोबाइल मिला  है। इसी के बाद से दीपक फोन नहीं उठा रहा है।

मामले में एसपी अमित कुमार का कहना है कि घटना की जानकारी मिली है। मामले में कुछ लोगों से पूछताछ व जांच-पड़ताल की जा रही है। जल्द ही खुलासा हो जाएगा।