जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
चंदौली में बढ़ गयी धान बेचने की सीमा, 75 कुंतल प्रति हेक्टेयर बेचिए अपना धान
चंदौली जिले में अब क्रय केंद्रों पर धान विक्रय करने की लिमिट को पढ़ाते हुए 50 क्विंटल प्रति हेक्टेयर से 75 क्विंटल प्रति हेक्टेयर कर दिया गया है,
 

चंदौली में बढ़ गयी धान बेचने की सीमा

75 कुंतल प्रति हेक्टेयर बेचिए अपना धान
 

चंदौली जिले में अब क्रय केंद्रों पर धान विक्रय करने की लिमिट को पढ़ाते हुए 50 क्विंटल प्रति हेक्टेयर से 75 क्विंटल प्रति हेक्टेयर कर दिया गया है, ताकि किसान पहले की अपेक्षा अधिक धान की बिक्री क्रय केंद्रों पर कर सकें। चंदौली जिले में इस सीजन में 2.35 लाख टन धान खरीद का लक्ष्य रखा गया है और इसके लिए जनपद में विभिन्न एजेंसियों के कुल 112 क्रय केंद्र खोल दिए गए हैं।

 आपको बता दें कि चंदौली जिले में इसके पहले 50 क्विंटल प्रति हैक्टेयर की दर से धान क्रय केंद्र की सीमा निर्धारित की गई थी, लेकिन किसानों के पास धन का अधिक उत्पादन होने के कारण उनके सामने इस बात की समस्या उत्पन्न हो रही थी कि वह शेष धान  को कहां बेचें। ऐसे में बिचौलियों को उन्हें धान बेचना पड़ सकता था। उनकी इस समस्या को देखते हुए सरकारी स्तर पर 25 क्विंटल प्रति हेक्टेयर धान बेचने की और अधिक सीमा बढ़ा दी गई है । इस तरह से अब एक किसान 75 क्विंटल प्रति हेक्टेयर की सीमा में अपना धान दे सकता है।

 आपको बता दें कि सरकार ने सामान्य धान खरीद के लिए 1940 प्रति क्विंटल की दर से रेट फिक्स किया है, जबकि महीन धान का खरीद मूल्य 1960 प्रति क्विंटल होगा। इसके साथ साथ अधिकारियों ने 24 घंटे के अंदर धान खरीदे जाने के बाद भुगतान का भी निर्देश जारी किया है।

 इस बात की जानकारी देते हुए चंदौली जनपद के जिला खाद्य विपणन अधिकारी अनूप कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि चंदौली जिले में धान खरीद के लिए कुल 112 केंद्र बनाए गए हैं, जहां पर और पंजीकरण के बाद किसानों से होने वाली खरीद कि सीमा बढ़ाते हुए 75 क्विंटल प्रति हेक्टेयर कर दिया गया है। अब किसान अपना पंजीकरण कराने के बाद 75 क्विंटल तक धान बेच सकते हैं।

 आपको बता दें कि चंदौली जिले में कुल 112 क्रय केंद्र खुले हुए हैं, जिसमें विपणन शाखा के 34, पीसीएफ के 19, पीसीयू के 37, नेफेड व यूपीएसएस के 9-9, एफसीआई के दो क्रय केंद्र काम कर रहे हैं। यह क्रय केंद्र सदर ब्लाक में 15, बरहनी में 22, नियामताबाद में 6, सकलडीहा में 14, चहनिया में 11, धानापुर में 10, चकिया में 17, शहाबगंज में 11 और नौगढ़ में 6 क्रय केंद्र खोले गए हैं।

 जानकारी के अनुसार जिले में अब तक 18,776 किसानों ने धान बेचने के लिए आवेदन किया है और इसके सापेक्ष कुल 10,885 किसानों के आवेदन का सत्यापन भी किया जा चुका है, जो अपना धान बेच सकते हैं।