जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
CM आवास में 13 वनवासियों से वसूली, गंगापुर के पूर्व प्रधान पर लाखों के गबन का आरोप
चंदौली जिले के विकास खंड नौगढ़ के गंगापुर गांव में मुख्यमंत्री आवास योजना में लाभार्थियों से वसूली का मामला सामने आया है।
 

CM आवास में 13 वनवासियों से वसूली

गंगापुर के पूर्व प्रधान पर लाखों के गबन का आरोप

13 लोगों ने दी तहरीर

चंदौली जिले के विकास खंड नौगढ़ के गंगापुर गांव में मुख्यमंत्री आवास योजना में लाभार्थियों से वसूली का मामला सामने आया है। आवासों का स्थलीय सत्यापन करने गए अधिकारियों को वनवासियों ने आरोप लगाया कि पूर्व प्रधान ने मैटेरियल गिराने हेतु खाते से पहली किस्त 44 हजार रुपए निकलवाकर ले लिया और बालू- सीमेंट नहीं गिराया। इससे उनके आवास नहीं बन पाए हैं। मामला उजागर होने पर कार्रवाई की तलवार लटकने लगी है।

 मामले में जिले के सीडीओ अजितेंद्र नारायण सिंह ने खंड विकास अधिकारी सुदामा यादव को मुकदमा दर्ज कराने का आदेश दिया है। पूर्व प्रधान फुलगेद खरवार के विरुद्ध सीएम आवास के 13  लाभार्थियों ने थाना चकरघट्टा में तहरीर दिया है। थाना पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुट गई है। माना जा रहा है कि जल्द ही मामले में कार्रवाई होगी।

मनीजर पुत्र खिलाड़ी का आरोप है कि उसकी जब पहली किस्त आई तो बैंक में मौजूद पूर्व प्रधान फुलगेद खरवार ने वहीं पर उनसे पैसे ले लिए और कहा कि जल्द ही वह बालू- सीमेंट गिरावाने का काम करेंगे ताकि उनका आवास बन सके। लेकिन वह बाद में आनाकानी करने लगे।  

मुख्यमंत्री आवास निर्माण कार्य में तेजी लाने हेतु पिछले दिनों  सीडीओ आजितेंद्र नारायण सिंह खंड विकास अधिकारी सुदामा यादव के साथ वनवासी बस्ती में गए थे।  निरीक्षण के दौरान वनवासी बस्ती के छोटक पुत्र पंचू  ने बताया कि उसे आवास मिला है, जिसकी पहली किस्त 40000 रुपए निकाला था। प्रधान  के साथ रहने वाले व्यक्ति ने 10 हजार रुपए ले लिया। उससे कहा कि उन्हें यह आवास दिलाने के लिए दौड़भाग करनी पड़ी तभी आवास मिला है। 

इसी तरह मुन्ना, रामचंद्र, राजू, मुसाफिर, मिठाई, जयराम, महेंद्र कुमार ने भी ग्राम प्रधान पर दस हजार रुपए से लेकर 30,000 रुपए वसूले जाने का आरोप लगाया। 

इस संबंध में थानाध्यक्ष दीनदयाल पांडेय ने बताया कि लाभार्थियों के द्वारा तहरीर मिली है, ग्राम पंचायत गंगापुर में मुख्यमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों से अवैध वसूली की गई है। ग्रामीणों के बयानों से यह स्पष्ट हुआ है कि यह वसूली पूर्व ग्राम प्रधान व उसके साथ रहने वाले लोगों ने की है, अवैध वसूली को लेकर 13 लाभार्थियों ने चकरघट्टा थाने में तहरीर दिया है। जांच-पड़ताल की जा रही है। उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी।