जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
बिजली विभाग ने बिजली काटी तो पावर हाउस पर ताला लगाकर धरना देने लगे फैक्ट्री मालिक

कंपनियों में अतिरिक्त सर चार्ज की वसूली के लिए बिजली काट दिए जाने से नाराज होकर उद्यमियों ने शुक्रवार को क्षेत्र के लगभग 70 फैक्टरियों पर ताला बंद कर दिया।
 

बिजली विभाग ने काटी बिजली

पावर हाउस पर ताला

धरना देने लगे फैक्ट्री मालिक

चंदौली जिले के रामनगर औद्योगिक क्षेत्र फेज वन में बिजली विभाग की ओर से कंपनियों में अतिरिक्त सर चार्ज की वसूली के लिए बिजली काट दिए जाने से नाराज होकर उद्यमियों ने शुक्रवार को क्षेत्र के लगभग 70 फैक्टरियों पर ताला बंद कर दिया। इसके बाद सारे फैक्ट्री मालिक जीवनाथपुर बिजली उपकेंद्र पर पहुंच कर ताला जड़ दिया और धरने पर बैठ गए।

कहा जा रहा है कि इस दौरान उद्यमियों ने बिजली विभाग के खिलाफ खूब नारेबाजी की और मनमानी का आरोप लगाया। बाद में बिजली विभाग के एमडी पावर कारपोरेशन से चंदौली के जिलाधिकारी ने बात की और उद्यमियों की समस्या का समाधान को कहा। समस्या के समाधान के आश्वासन पर उद्यमी शांत हुए।

 रामनगर औद्योगिक क्षेत्र फेज वन में कुल छोटी-बड़ी मिलाकर डेढ़ सौ यूनिट संचालित होती हैं। यहां जीवनाथपुर बिजली उपकेंद्र से कारखानों पर बिजली आपूर्ति की जाती है। बिजली विभाग ने बृहस्पतिवार को सरचार्ज जमा न करने वाले लगभग 15 कंपनियों की बिजली काट दी। इससे उद्यमी नाराज हो गए और शुक्रवार को रामनगर इंडस्ट्रियल एसोसिएशन के संरक्षक आरके चौधरी और रामनगर इंडस्ट्रियल एसोसिएशन के अध्यक्ष डीएस मिश्र के नेतृत्व में लगभग 70 की संख्या में उद्यमियों ने अपने कंपनियों में ताला बंद कर दोपहर लगभग दो बजे जीवनाथपुर उपकेंद्र पर पहुंचे।

बताया जा रहा है कि पावर हाउस पर ताला बंद कर नारेबाजी शुरू कर दी। इस दौरान आरके चौधरी ने कहा कि औद्योगिक क्षेत्र फेज वन से लगभग वार्षिक 200 करोड़ का राजस्व मिलता है। कोरोना काल से उद्यमी अभी उबर नहीं पाए हैं। इसी बीच बिजली विभाग अतिरिक्त सरचार्ज जमा करने का दबाव बनाना शुरू कर दिया है। साथ ही कहा कि उद्यमी सरचार्ज जमा करने के लिए मार्च तक का समय मांग रहे हैं। उद्यमी लगातार नियमित रूप से बिजली बिल जमा कर रहे हैं। जिन उद्यमियों का बिल जमा नहीं है, बिजली विभाग चाहे तो उनकी आपूर्ति बंद कर सकता है। जो नियमित रूप से बिल जमा कर रहे हैं, उनकी बिजली के अतिरिक्त सरचार्ज के लिए लाइन काटा जाना कहीं से उचित नहीं है। 

मौके पर रामनगर इंडस्ट्रियल एसोसिएशन के अध्यक्ष डीएस मिश्रा ने जिलाधिकारी संजीव सिंह से बात कर उद्यमियों के समस्याओं के निस्तारण की अपील की। इस पर जिलाधिकारी ने एमडी पावर कारपोरेशन से बात कर उद्यमियों से मिलकर समस्या के समाधान को कहा। इस पर एमडी पावर कारपोरेशन ने आरके चौधरी से वार्ता की और वार्ता के लिए वाराणसी आमंत्रित किया। इस पर दो घंटे बाद शाम चार बजे उद्यमियों ने धरना समाप्त किया। 

धरना प्रदर्शन करने वाले लोगों में राकेश जायसवाल, रतन कुमार सिंह, सुनील अग्रवाल, रमेश बंसल, सुरेश पटेल, दीपू तिवारी, एएन तिवारी रहे।