जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
बस कृपा का इंतजार : चंदौली जिले की खराब 100 सड़कों का बनाया है प्रस्ताव, शासन से मंजूरी व बजट का इंतजार
 

चंदौली जिले में सड़कों को लेकर हो रही लोक निर्माण विभाग की किरकिरी तभी समाप्त होगी जब सरकार उनको बनाने के लिए धन देगी। विभाग ने 100 से अधिक सड़कों की मरम्मत के लिए प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजा है। बजट मिलते ही इन पर काम शुरू होने की उम्मीद जतायी जा रही है।

कहा जा रहा है कि जनपद की लगभग सौ सड़कों की सूरत बदल कर लोगों को गुड फील कराने के लिए लोक निर्माण विभाग ने खाका तैयार कर लिया है। उम्मीद है कि जल्द ही राहगीरों को उबड़- खाबड़ मार्ग से मुक्ति मिलेगी। राहगीरों की राह आसान होगी।

road

विभागीय अफसरों का कहना है कि विभाग की ओर से शासन को प्रस्ताव बनाकर भेज दिया है। अगले दो से तीन माह के अंदर शासन से अनुमति मिलने की उम्मीद भी जतायी जा रही है। इन सारी सड़कों को बनाने के लिए विशेष टीम बनाकर काम कराया जाएगा, ताकि गुणवत्ता से कोई समझौता न हो।

जानकारी के अनुसार, पीडब्ल्यूडी ने सैयदराजा की 53, मुगलसराय विधानसभा की 21 सड़कें और सकलडीहा की लगभग 30 से अधिक सड़कों को चिह्नित किया है, जिनकी मरम्मत जरूरी है। इन सड़कों की विशेष मरम्मत हो जाने के बाद वाहन चालकों सहित राहगीरों को आवागमन में सहूलियत होगी।

road

अगर जिले का दौरा करेंगे तो पता चलेगा कि जनपद की अधिकांश सड़क जर्जर अवस्था में पड़ी हैं। गड्ढायुक्त सड़क लोगों के लिए जानलेवा बनने लगी है। आए दिन वाहन सवार गिरकर चोटिल होते रहते हैं। ग्रामीण क्षेत्र की कई सड़कों की स्थिति यह है कि इन सड़कों पर पैदल चलना भी मुश्किल होने लगा है। सरकार बार बार गड्ढामुक्त सड़कों के लिए अभियान चलाती है और दावा करती है, लेकिन चंदौली जिले में यह दावा खोखला लगने लगा है।

लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता देवेंद्र पाल सिंह का कहना है कि सैयदराजा की 53, मुगलसराय की 21 और सकलडीहा इलाके की कई सड़कों को भी चिह्नित कर लिया गया है। इन सबका प्रस्ताव बनाकर भेज दिया गया है। शासन से स्वीकृति व बजट मिलते ही काम शुरू करा दिया जाएगा।