जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
सरकार के इस फैसले से रो रहे हैं पेट्रोल पंप मालिक व संचालक, लाखों का घाटा
पेट्रोल पंप डीलर एसोसिएशन के प्रतिनिधि पेट्रोलियम पदार्थों में अचानक हुई भारी गिरावट के बाद से काफी डर गए हैं और वह सरकार से हुए घाटे की भरपाई की मांग कर रहे हैं।
 

पेट्रोलियम पदार्थों में अचानक हुई भारी गिरावट

पेट्रोल पंप मालिक व संचालक परेशान 

सरकार से हुए घाटे की भरपाई की मांग

चंदौली जिले के पेट्रोल पंप डीलर एसोसिएशन के प्रतिनिधि पेट्रोलियम पदार्थों में अचानक हुई भारी गिरावट के बाद से काफी डर गए हैं और वह सरकार से हुए घाटे की भरपाई की मांग कर रहे हैं।

 पेट्रोल पंप डीलर एसोसिएशन के लोगों का कहना है कि सरकार ने अचानक से डीजल और पेट्रोल के दाम काफी कम कर दिया इससे उनको भारी आर्थिक क्षति उठानी पड़ी है। सरकार को तेल कंपनियों के माध्यम से पेट्रोल पंप संचालकों की आर्थिक क्षति की भरपाई करानी चाहिए। इसके साथ ही साथ भविष्य में इस तरह के बड़े उतार-चढ़ाव कर को लेकर होने वाले फैसले पर एक कोई ठोस नीति निर्धारित की जानी चाहिए, नहीं तो पेट्रोल पंप का धंधा चौपट हो जाएगा और इससे लगने वाले झटके से पेट्रोल पंप मालिक उबर नहीं पाएंगे।

कहा कि पहले जब पेट्रोलियम पदार्थों की कीमत कभी कभार बढ़ती थी तो इसके लिए पेट्रोल पंप संचालक मानसिक रूप से तैयार रहते थे, लेकिन हर दिन होने वाली बढ़ोतरी तो केवल कुछ पैसे और या कुछ रुपयों की होती है, लेकिन अचानक से इतनी भारी गिरावट करके सरकार ने पेट्रोल पंप मालिकों को करारा झटका दिया है। इससे उनको करोड़ों रुपए का नुकसान होगा। सरकार अगर इसकी भरपाई नहीं करती है तो पेट्रोल पंप बंद होने के कगार पर चले जाएंगे।

इस बारे में चंदौली जिले के पेट्रोल पंप डीलर एसोसिएशन का प्रतिनिधिमंडल ने सोमवार को कलेक्ट्रेट में एसडीएम अशोक कुमार सिंह से मिलकर डीजल पेट्रोल के दाम कम होने से हुए घाटे की भरपायी की मांग कर चुका है। इसके लिए सरकार के नाम पत्रक सौंपकर समस्या बता चुके हैं। 

इस दौरान बजारी सिंह, साकेत सिंह, काशीनाथ सिंह, रवींद्र प्रताप सिंह, सतीश कुमार सिंह, दिलीप कुमार सिंह, सिद्धार्थ यादव, सनी दयाल सोनकर रहे।