जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
नौगढ़ में रेंजर इमरान खान की कार्रवाई, 13 लोगों के विरुद्ध दर्ज किया मुकदमा

चकरघट्टा थाना क्षेत्र के अंतर्गत पढौती गांव के रहने वाले 13 लोगों के विरुद्ध वन क्षेत्राधिकारी इमरान खान ने भारतीय वन्यजीव अधिनियम 1927 के विभिन्न धाराओं में निरुद्ध किया है। वांछित लोग वन भूमि को कब्जा करने हेतु जोत- कोड़  करने के साथ ही बोला नालियों को पाट दिया था ।

 

रेंजर इमरान खान की कार्रवाई

13 लोगों के विरुद्ध दर्ज किया मुकदमा

चंदौली जिले के तहसील नौगढ़ में वन विभाग ने पुराने प्लांटेशन के पौधों को नष्ट करके, कब्जा के लिए वन भूमि को जोत- कोड़ के मामले में कार्रवाई करते हुए वांछित अतिक्रमणकारियों के खिलाफ भारतीय वन संरक्षण अधिनियम 1927 की धारा 26 के तहत कार्रवाई की है।


आपको बता दें कि डीएफओ रामनगर दिनेश सिंह के निर्देश पर आरक्षित वन भूमि को कब्जा करने वाले 13 से अधिक लोगों के खिलाफ रविवार को वन अपराध मामला दर्ज हुआ है। काशी वन्य जीव प्रभाग  रामनगर के मझगांई रेंज में गहिला कंपार्टमेंट नंबर 3, चिकनी वीट के कुड़निया बंधी के पास पिछले कुछ दिनों से दो दर्जन से अधिक की संख्या में लोगों ने झाड़ियां, पेड़- पौधे और प्राकृतिक वनस्पतियों को नष्ट कर कर दिया था। वन भूमि को कब्जा करने के लिए पुराने खोदे गए बोना नाली को पाटने के बाद जोत- कोड़ करना शुरू कर दिया था। 


वन क्षेत्राधिकारी इमरान खान मुखबिर से वन भूमि कब्जा होने की जानकारी मिलने पर टीम बनाकर रेंज के वन दरोगा वीरेंद्र पांडे, राजकुमार, वनरक्षकों में शिवपाल चौहान, महेंद्र प्रताप तथा  वाचर समेत अन्य वनकर्मियों को साथ लेकर मौके पर पहुंचे। 

आप को बता दें कि वन विभाग के सदल बल को देखकर वन भूमि कब्जा करने वालों में हड़कंप मच गया। मनबढ़ अतिक्रमणकारी भाग खड़े हुए।


 वन विभाग ने चकरधट्टा थाना क्षेत्र के पढ़ौती गांव के रहने वाले विनोद पुत्र राम जन्म, सुरेश पुत्र रामप्रसाद, राम सकल पुत्र डंगर, सुखई पुत्र बुद्धू, रामजनम पुत्र हरि, रामप्रसाद पुत्र डंगर, जीतू पुत्र सुदामा, शिवजनम पुत्र हरि, राजेश पुत्र डंगर, कमलेश पुत्र बिहारी, सुखाई पुत्र बुद्धू  व अन्य लोगों के खिलाफ भारतीय वन संरक्षण अधिनियम के 1927 की धारा 26 में निरुद्ध करते हुए वन अपराध का मामला दर्ज किया है।


वन क्षेत्राधिकारी इमरान खान बोले


वन भूमि को जोत-कोड़ करके प्राकृतिक वनस्पतियों को नष्ट करने के मामले में 13 लोगों के विरुद्ध भारतीय वन संरक्षण अधिनियम 1927 की धारा 26 के तहत वन अपराध का  मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की गई है ।


इमरान खान, वन क्षेत्राधिकारी मझगांई