जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
सपा नेताओं ने कुछ इस तरह से चंदौली में किया विरोध प्रदर्शन, पुलिस से नोंकझोंक भी
तत्पश्चात चंदौली धरना स्थल पर पहुंच कर मुख्यमंत्री को रिहा करने की मांग को लेकर धरने में शामिल हुए। इस दौरान पुलिस और सपा कार्यकर्ताओं में तीखी नोकझोंक भी हुई।
 

अखिलेश के गिरफ्तार होते ही सड़क पर उतरे सपा नेत

कई जगहों पर जमकर हुआ विरोध प्रदर्शन

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव किसानों की मौत के बाद सोमवार को लखीमपुर खीरी जा रहे थे कि उनके आवास के बाहर ही रोक दिया गया। इसके बाद धरने पर बैठ गए। पुलिस द्वारा उनको गिरफ्तार भी कर लिया गया। इससे आक्रोशित सपाई पूर्व सांसद रामकिशुन यादव के नेतृत्व में सपा कार्यालय मुगलसराय के सामने जीटी रोड पर बैठकर चक्का जाम कर दिया।

वहीं चकिया तिराहे पर सपा युवा नेता अंकित यादव के नेतृत्व में सपा कार्यकर्ताओं ने चकिया किराए पर धरना प्रदर्शन ही नहीं, बल्कि मुख्यमंत्री का पुतला दहन करने का प्रयास भी किया। हालांकि पुलिस ने पहले ही पुतला छीन लिया।

Samajwadi Party Protest in chandauli

खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के पूर्व सदस्य संतोष यादव ने भी चकिया तिराहे पर पहुंचकर धरना में शामिल हुए। तत्पश्चात चंदौली धरना स्थल पर पहुंच कर मुख्यमंत्री को रिहा करने की मांग को लेकर धरने में शामिल हुए। इस दौरान पुलिस और सपा कार्यकर्ताओं में तीखी नोकझोंक भी हुई।

सपाइयों ने राष्ट्रीय अध्यक्ष को रिहा करने की मांग को लेकर लंबे समय तक धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान जीटी रोड के दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लग गई चिलचिलाती धूप में राहगीर बिलबिला उठे। वक्ताओं ने कहा कि भाजपा के गुन्डों के द्वारा किसानों की आवाज को दबाने के लिए उनकी हत्या करता है लाने का काम किया जा रहा है। लेकिन सपा कार्यकर्ता उनकी आवाज को बुलंद करने का काम करेंगे।

Samajwadi Party Protest in chandauli

इस मौके युवजन सभा के जिला अध्यक्ष चकरू यादव, लोहिया वाहिनी के प्रदेश सचिव प्रदीप यादव, पूर्व प्रधान विक्की यादव, निरंजन यादव, विजय बॉर्डर, प्रेम तिवारी, सोम बिन्द, महेश सोनकर, विनोद बिंद सहित दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद रहे।