जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
अबकी बार सैयदराजा विधानसभा सीट पर पिछड़ी जाति के उम्मीदवार की है दावेदारी, मिलेगा टिकट व होगी जीत
चंदौली जिले की सैयदराजा विधानसभा सीट से समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं। हर दिन उनकी सक्रियता सैयदराजा विधानसभा क्षेत्र में बनी रहती है।
 

समाजवादी पार्टी के नेता सुधाकर कुशवाहा 

 टिकट मिला तो एकजुट होकर वोट देगा पिछड़ा समाज

बनेगी अखिलेश की सरकार

चंदौली जिले में समाजवादी पार्टी के नेता और लोहिया वाहिनी के राष्ट्रीय सचिव सुधाकर कुशवाहा आजकल चंदौली जिले की सैयदराजा विधानसभा सीट से समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं। हर दिन उनकी सक्रियता सैयदराजा विधानसभा क्षेत्र में बनी रहती है।

 आज सुधाकर कुशवाहा ने चंदौली समाचार के साथ खास बातचीत की और समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ने और सपा की चुनावी तैयारियों पर खुलकर चर्चा की।

चंदौली समाचार से बातचीत में सुधाकर कुशवाहा ने कहा कि समाजवादी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं को इस समय एकजुट होकर काम करना चाहिए और मतदाताओं का नाम वोटर लिस्ट में जुड़वाने के लिए अपने अपने इलाके में प्रयास करना चाहिए। साथ ही साथ सारे मतभेद भुलाकर एकजुट होकर 2022 में अखिलेश यादव की सरकार बनाने का कार्य करना चाहिए।

सुधाकर कुशवाहा ने कहा कि चंदौली जिले के भारतीय जनता पार्टी के विधायकों की कार्यशैली देककर ऐसा लगता है कि चंदौली जिले के सारे विधायक फेल हैं और उनकी सत्ता और शासन में कोई सुनवाई नहीं है। तभी तो जनपद की सड़कों का हाल बदहाल है और स्वास्थ्य, शिक्षा, सिंचाई, रोजगार जैसे कई मामलों पर सरकार पहले की सरकारों से पूरी तरह फेल दिखाई दे रही है।

 सुधाकर कुशवाहा ने कहा कि अबकी बार सैयदराजा विधानसभा पर पिछड़े समाज के उम्मीदवारों की दावेदारी बनती है, क्योंकि इसके पहले यहां पर दलित समाज और अगड़ी जाति के लोगों को विधायक बनने का मौका मिला है। सैयदराजा विधानसभा में 2 लाख 23 हजार से अधिक पिछड़ी जाति के मतदाता मौजूद हैं। ऐसे में यह एक बड़ा रोल अदा करने वाले हैं। इसीलिए वह समाजवादी पार्टी के टिकट पर सैयदराजा विधानसभा से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं। अगर समाजवादी पार्टी टिकट देती है तो वह सैयदराजा विधानसभा सीट पर पार्टी की जीत सुनिश्चित कराने की भरपूर कोशिश करेंगे।