जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
SP चंदौली से गुहार लगाने के बाद भी नहीं मिला न्याय, महिला दे रही आत्महत्या की धमकी
 

 उत्तर प्रदेश सरकार महिलाओं को त्वरित न्याय देने के लिए जहां शक्ति मिशन के तहत अलग महिला विंग बनाकर महिला दरोगा की तैनाती की है, ताकि महिलाओं की शिकायतों और समस्याओं का तत्काल निराकरण हो सके और उनकी बातों को गंभीरता पूर्वक सुना जा सके। वहीं एक किशोरी छेड़खानी की घटना का आरोप लगाकर न्याय नहीं मिलने पर पुलिस अधीक्षक को आत्महत्या करने की चेतावनी दे दी है।

आपको बता दें कि धीना थाना क्षेत्र के एक गांव की नाबालिक युवती गांव के ही दो लोगों पर मारने पीटने व जबरदस्ती छेड़खानी करने का आरोप लगा रही थी। युवती का आरोप है कि वह न्याय के लिए थाने से लेकर एसपी साहब तक पहले भी प्रार्थना पत्र देख चुकी है और उसके बाद भी कोई कार्यवाही नहीं हुई। मुझे अब न्याय मिलने की आस नहीं लग रही है। इसलिए वह पुलिस अधीक्षक से गुहार लगाकर कह रही है कि अगर मेरे साथ न्याय नहीं हुआ तो मैं आत्महत्या कर लूंगी और उसकी सारी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी।


 युवती ने बताया कि गांव के ही 2 लोग 21 सितंबर को घर पर आये और कहे कि तुम लोग हम लोगों को मारे हो.. हम लोग भी तुमको मारेंगे और मैं खाना बना कर डर से सो गई। लेकिन जब भूख लगी तो 10 बजे रात को कल पर पानी लेने गई तो दो लोग नशे की हालत में मुझे पकड़ कर मेरे साथ जबरदस्ती करने की कोशिश की, जिस पर उसने एक के हाथ पर दांत काटी तो वह छोड़कर भाग गए।

 तत्काल उसे 112 नम्बर को भी फोन की थी और एक लोगों को पुलिस पकड़ कर ले गई थी। उसके बाद उसे छोड़ दिया गया। पुलिस अगर जांच करके इस मामले में कार्यवाही नहीं करती है तो मेरे पास कोई रास्ता नहीं है। मैं आत्महत्या कर लूंगी। युवती ने यह भी आरोप लगाया कि इसके पहले भी मेरे साथ घर में अकेले रहने पर मारपीट उन लोगों द्वारा की गई है, जिसकी मेडिकल रिपोर्ट है। युवती ने बताया कि एसपी साहब ने कहा है कि आज ही पुलिस आपके यहाँ पहुँच कर जांच कर कार्यवाही करेगी।

इस संबंध में सीओ सकलडीहा रामवीर सिंह ने बताया कि इस मामले की अभी जानकारी नहीं है। जानकारी लेकर न्यायोचित कार्रवाई की जाएगी।