जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
इन 2 बाबुओं के आगे बेबस हैं जिले के आला अफसर, नहीं उखाड़ पा रहे इनका 'खूंटा'
अभी भी कुछ मलाई काटने वाले बाबू बहाने बनाकर पूर्ण रूप से चार्ज देने में आनाकानी कर रहे हैं। इससे कई सरकारी कार्यों को करने में परेशानी आ रही है और आम जनता के कार्य भी बाधित हो रहे हैं..
 

कुछ मलाई काटने वाले बाबू कर रहे खेल

अवधेश सिंह और प्रमोद पांडेय न जाने क्यों नहीं चार्ज दे रहे

जिले के सीएमओ कार्यालय का मोह भांग नहीं हो पा रहा

चंदौली जिले के सीएमओ कार्यालय के बाबू के ट्रांसफर के बाद शासन के निर्देश पर उन्हें रिलीव कर अन्य जगहों पर बाबू को ज्वाइन करा दिया गया है, लेकिन अभी भी कुछ मलाई काटने वाले बाबू बहाने बनाकर पूर्ण रूप से चार्ज देने में आनाकानी कर रहे हैं। इससे कई सरकारी कार्यों को करने में परेशानी आ रही है और आम जनता के कार्य भी बाधित हो रहे हैं। इसमें अवधेश सिंह और प्रमोद पांडेय न जाने क्यों नहीं चार्ज दे रहे हैं।

 बताते चलें मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय से कुल 6 बाबुओं का ट्रांसफर हो चुका है, जो कि शासन के निर्देश के अनुसार ट्रांसफर की जगहों पर कार्यभार ग्रहण करने के बाद भी अभी पूर्ण रुप से चार्ज नहीं दे रहे हैं। उनके चार्ज देने के कारण जनता के कार्य के साथ ही साथ शासन के सरकारी कार्य भी बाधित हो रहे हैं। 

कहा जा रहा है कि अपने आला अफसरों की छत्रछाया होने के कारण वह मनमाने काम कर रहे हैं और उनका अब भी जिले के सीएमओ कार्यालय का मोह भांग नहीं हो रहा है। इसीलिए वह चार्ज देने में आनाकानी कर रहे हैं और समय न होने का हवाला देते हुए चार्ज देने से बच रहे हैं। 

वहीं कुछ बाबू द्वारा अपना पूर्ण रूप से चार्ज दे भी दिया गया है, जिसमें अतुल, अश्वनी, नागेन्द्र सिंह तथा विद्युत प्रकाश द्वारा चार्ज देकर एलपीसी प्रमाण पत्र भी ले लिया गया है। वहीं दो बाबुओ द्वारा अभी एलपीसी प्रमाण पत्र नहीं प्राप्त किया गया है। जिससे जिले के सीएमओ कार्यालय में चलने वाले खेल को लेकर तरह तरह की चर्चाएं हो रही है।