जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
पं. दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन पर लगेगा स्टाल, बिकेंगे जरी जरदोजी, ब्लैक राइस और लकड़ी के खिलौने
प्रदेश सरकार की ओर से एक जिला एक उत्पाद योजना शुरू की गई है। इसी तर्ज पर रेलवे ने पूरे देश में एक स्टेशन एक उत्पाद योजना शुरू की है। इसके तहत स्टेशनों पर उसे जिले के उत्पादों को बेचा जा रहा है।
 

एक जिला एक उत्पाद योजना का सामान

लकड़ी के खिलौने बेचने के लिए मौका

काला चावल भी बेचने के लिए लगेगा स्टाल

एक स्टेशन एक उत्पाद योजना के तहत पं. दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन पर जरी जरदोजी, ब्लैक राइस और लकड़ी के खिलौने बेचने के लिए उत्पादकों को मौका मिलेगा।  इसके लिए रेलवे स्टेशन के मुख्य द्वार पर स्टाल लगाकर इन चीजों को बेंचने का मौका दिया जाएगा। जिससे स्टेशन पर आने जाने वाले लोग चंदौली जिले की खास चीजों को आसानी से खरीद सकेंगे। स्टाल आवंटन के लिए शुक्रवार को यात्री हाल में एक आवेदन बाक्स रखा गया। आने वाले सभी आवेदनों की जांच के बाद क्रम से एक व्यक्ति को 15 दिन के लिए स्टाल आवंटित करने की योजना है।

प्रदेश सरकार की ओर से एक जिला एक उत्पाद योजना शुरू की गई है। इसी तर्ज पर रेलवे ने पूरे देश में एक स्टेशन एक उत्पाद योजना शुरू की है। इसके तहत स्टेशनों पर उसे जिले के उत्पादों को बेचा जा रहा है। इसके लिए स्टाल लगाए जा रहे हैं। इससे जहां स्थानीय उत्पादकों को अपना माल देश के विभिन्न कोनों तक पहुंचाने में मदद मिल रही है। वहीं स्टाल से रोजगार भी मिलेगा। 

इसी क्रम में हावड़ा दिल्ली रूट पर अति व्यस्त पं. दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन पर जरी जरदोजी, ब्लैक राइस और लकड़ी के खिलौने बेचने का निर्णय लिया गया है। इसके तहत उत्पादकों को एक हजार रुपये में 15 दिन के लिए स्टाल आवंटित किया जाएगा। यदि पचास लोगों ने आवेदन किया तो सभी को बारी बारी से 15-15 दिनों से लिए स्टाल आवंटित किया जाएगा। 

इसके लिए शुक्रवार को आवेदन जमा करने के लिए आवेदन बॉक्स यात्री हाल में रखा गया। आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि तय नहीं की गई है। बताया जा रहा है कि आवेदन जमा होने के बाद निर्धारित तिथि पर सभी आवेदकों के सामने बॉक्स खोला जाएगा और लाटरी से नाम निकाला जाएगा। जिसका नाम पहले आएगा, उसे पहले स्टाल आवंटित किया जाएगा। 

बॉक्स रखते समय स्टेशन अधीक्षक आरके सिंह, सीएसजी अजीत कुमार, आरपीएफ निरीक्षक संजीव कुमार रहे।

 
 

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*