जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
बीसी सखियों ने बतायी अपनी समस्याएं, डिवाइस की जगह लैपटॉप देने की मांग
बीसी सखियों ने कहा कि शासन द्वारा प्रत्येक बीसी सखी को 75,000 रुपया प्रदान किया गया। जिसमें से 32,570 रुपया डिवाइस खरीदने के लिए मणिपाल प्राईवेट लिमिटेड को दिया गया।
 

चंदौली जिले के शहाबगंज कस्बे में स्थित पंचायत भवन पर बीसी सखी महिला उत्थान समिति के तत्वावधान में मंगलवार को बीसी सखी की समस्याओं को लेकर बैठक की गयी। बैठक में बीसी सखी को दी गयी डिवाइस, मानदेय व पंचायत भवन में बैठने को लेकर विस्तार पूर्वक चर्चा किया गया। 

इस दौरान बीसी सखियों ने कहा कि शासन द्वारा प्रत्येक बीसी सखी को 75,000 रुपया प्रदान किया गया। जिसमें से 32,570 रुपया डिवाइस खरीदने के लिए मणिपाल प्राईवेट लिमिटेड को दिया गया। लेकिन कम्पनी ने मेड इन चाइना डिवाइस दे दिया, जो महीने के 10-15 दिन खराब ही रहता है। जिसके कारण सखियों को काफी समस्या हो रही है। लेनदेन नहीं होने के कारण ग्रामीण मायूस होकर घर वापस चले जाते हैं। सभी ने डिवाइस को बदलकर लैपटॉप देने की मांग किया। 

BC Sakhi Laptop Demand

राष्ट्रीय महासचिव निशा कुमारी  ने कहा कि सरकार ने बीसी सखियों को पंचायत भवन पर ही बैठकर कार्य करने का आदेश दिया है। लेकिन ग्राम प्रधान व सचिव द्वारा पंचायत भवन में जगह उपलब्ध कराने में हीलाहवाली की जा रही हैं। वही सरकार द्वारा प्रदान की गयी 75000 रुपये की धनराशि को माफ करने, प्रदान की जा रही मानदेय को स्थाई करने, सभी सखियों को हेल्थ इंश्योरेंस कराने व डिवाइस की जगह लैपटाप देने की मांग किया। जिससे बीसी सखियों का कार्य सुचारू रुप से चलता रहे। 

बैठक में बन्दना जायसवाल, निधि तिवारी, प्रिया सिंह, पूजा पाल सहित आदि बीसी सखी उपस्थित रहीं। बैठक का संचालन पूजा तिवारी ने किया।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*