जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
मुहर्रम के चालीसवां पर अखाड़े में युवाओं ने दिखाए करतब, देशभक्ति गीत से शुरू हुआ करतब
मैदाने कर्बला में शहीद हुए इमाम हुसैन व उनके 71 अनुयायियों की शहादत के चालीस दिन बाद चेहल्लूम मनाया जाता है। यह आयोजन एक आपसी मिल्लत व भाई -चारा का संदेश देता है।
 

चंदौली जिले के शहाबगंज क्षेत्र के बड़गावां गांव में मुहर्रम के चालीसवां पर अंजुमन गरीब नवाज कमेटी की तरफ से हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी सोमवार को चेहल्लूम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में सोहदवार, फत्तेपुर व तकिया महड़ौर के खिलाड़ियों ने प्रतिभाग कर हैरतअंगेज खेल दिखाया।

Chalisawan Julus
               
प्रतियोगिता का उद्घाटन पूर्व जिला पंचायत सदस्य रतीश कुमार, प्रधान संघ अध्यक्ष गुलफाम अहमद मिक्कू व प्रधान मुनिराज यादव ने फीता काटकर व अखाड़े के उस्तादों को साफा बांधकर खेल का शुभारम्भ कराया। इस दौरान मुख्य अतिथि ने कहा कि इमाम हुसैन की याद का पर्व मुहर्रम का चेहल्लूम है। एकता की मिसाल इस मुहर्रम का चेहल्लूम पर्व में ही देखने को मिलता है। 

Chalisawan Julus

Chalisawan Julus

वहीं प्रधान संघ अध्यक्ष गुलफाम अहमद मिक्कू ने कहा कि मैदाने कर्बला में शहीद हुए इमाम हुसैन व उनके 71 अनुयायियों की शहादत के चालीस दिन बाद चेहल्लूम मनाया जाता है। यह आयोजन एक आपसी मिल्लत व भाई -चारा का संदेश देता है। प्रतियोगिता में रविवार की रात को अंजुमन अजमुल्ला पंजतन सुदांव, अंजुमन सोहदाए हुसैन नकटी व अंजुमन गुलजारे पंजतन ऐलहीं  ने चौक पर नौहा खानी कर खिराजे अकीदत पेश किया। वहीं सोमवार को दिन में शाही अंजुमन सोहदवार, अंजुमन फिदाए हुसैनी फत्तेपुर व अंजुमन हैदरिया तकिया महड़ौर की टीम ने लकड़ी,बनेठी, बंदिश, बाना, झूमर आदि औजारों से कला का प्रदर्शन किया। इसे देखने के लिए गांव के साथ ही आसपास गांव के काफी संख्या में लोग जुटे रहे। 

Chalisawan Julus

Chalisawan Julus

इस दौरान अध्यक्ष महताब अहमद,अल्तजा हुसैन, इबरार अहमद, सद्दाम, सोनू, तसलीम ईल्लू, राकिब, अनीज, शेरू बाबा, सलाहुद्दीन, साबिर, आमिर, अतीक, सैफ, आदिल आदि अंजुमन के लोग मौजूद थे।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*