जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
वन विभाग ने अवैध खनन क्षेत्र में व्यापक अभियान चलाकर की छापेमारी
कांबिंग के दौरान वन विभाग की टीम ने आसपास के गांव के लोगों को अवैध खनन से उत्पन्न पर्यावरण संकट के प्रति जागरूक किया।
 

अभियान की भनक लगते ही भाग खड़े हुए खनन माफिया, मचा हुआ है माफियाओं में हड़कंप

 


चंदौली जिला की जिलाधिकारी ईशा दुहन के निर्देश वन संपदा के अवैध दोहन को रोकने के लिए वन विभाग द्वारा गठित टीम द्वारा गुुरुवार की रात चंद्रप्रभा वन क्षेत्राधिकारी विनोद कुमार पांडेय के नेतृत्व में वन कर्मियों ने अवैध खनन क्षेत्र में व्यापक कांबिंग अभियान चलाया। अभियान के दौरान टीम ने अवैध खनन के स्थानों पर छापेमारी की लेकिन सूचना लीक हो जाने के कारण कोई खनन माफिया गिरफ्त में नहीं आ सका। वहीं अचानक चलाए गए इस अभियान से खनन माफियाओं में खलबली मची रही।

बताते चलें कि जिलाधिकारी के निर्देश पर वन विभाग के गठित टीम ने काशी वन्यजीव प्रभाग के प्रतिबंधित पहाड़ियों सहित नदी में अवैध बालू खनन की अवैध रोकथाम के लिए उपजिलाधिकारी ज्वाला प्रसाद, तहसीलदार विकास घर दूबे सहित सात सदस्यीय टीम का गठन किया गया। 

वन विभाग के अधिकारियों के नेतृत्व में अवैध खनन क्षेत्र के गिधवां, बावनबीर, ललमनिया, गायघाट, भंगडा, भीषमपुर, गनेशपुर की पहाड़ियों पर व्यापक कांबिंग अभियान चलाकर खनन कर रहे माफिया की खोजबीन की लेकिन सूचना लीक हो जाने के कारण कोई भी खनन माफिया वन विभाग के कब्जे में नहीं आ सका। कांबिंग के दौरान वन विभाग की टीम ने आसपास के गांव के लोगों को अवैध खनन से उत्पन्न पर्यावरण संकट के प्रति जागरूक किया।

इस अभियान में वन दरोगा सुशील कुमार गिरी, रामचरित्र, रिशु चौबे आदि वनकर्मी शामिल थे।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*