जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
अन्तर महाविद्यालयीय खो-खो प्रतियोगिता की विजेता बनी महादेव पीजी कालेज की टीम
मुख्य अतिथि तहसीलदार चकिया विकासधर दूबे ने कहा कि पढ़ाई के साथ खेलकूद बहुत ही जरूरी है। खेलने से मन और मस्तिष्क दोनों स्वास्थ्य होते हैं। जिससे पढ़ने में भी रुचि पैदा होती है। खेल के द्वारा देश, विदेश में सम्मान मिलता है।
 

 6 महाविद्यालयों के छात्राओं ने प्रतिभाग

द्वितीय स्थान पर अग्रसेन महिला पीजी कॉलेज

मेडल व शील्ड देकर किया गया सम्मानित

चंदौली जिले के शहाबगंज इलाके के श्री योगेश्वरनाथ महाविद्यालय में गुरुवार को एक दिवसीय अन्तर महाविद्यालय बालिका खो-खो प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जहां पर 6 महाविद्यालयों के छात्राओं ने प्रतिभाग किया। इस प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान पाने वाली बालिकाओं को मेडल व शील्ड देकर सम्मानित किया गया।

Inter College KhoKho

समापन कार्यक्रम के मुख्य अतिथि तहसीलदार चकिया विकासधर दूबे ने कहा कि पढ़ाई के साथ खेलकूद बहुत ही जरूरी है। खेलने से मन और मस्तिष्क दोनों स्वास्थ्य होते हैं। जिससे पढ़ने में भी रुचि पैदा होती है। खेल के द्वारा देश, विदेश में सम्मान मिलता है। वहीं आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है। बालिका खो-खो प्रतियोगिता का आयोजन इस ग्रामीण क्षेत्र के महाविद्यालय में होने से अन्य बालिकाओं में भी खेलने को लेकर जिज्ञासा पैदा होगी। हर व्यक्ति को अपने रुचि के खेल में प्रतिभाग करना चाहिए।

वहीं समापन से पूर्व महात्मागांधी काशी विद्यापीठ वाराणसी, श्री योगेश्वरनाथ महाविद्यालय शहाबगंज, महादेव पीजी कालेज वाराणसी, सनबीम कालेज फार वोमेन वाराणसी, धीरेन्द्र महिला पीजी कॉलेज वाराणसी व अग्रसेन महिला पीजी कालेज वाराणसी की टीम ने प्रतिभाग किया। जहां फाइनल मैच अग्रसेन महिला पीजी कालेज व महादेव पीजी कालेज के बीच खेला गया। जहां जहां महादेव पीजी कालेज की छात्राएं विजेता बनी। वहीं द्वितीय स्थान अग्रसेन महिला पीजी कॉलेज, तृतीय स्थान पर काशी विद्यापीठ की छात्राएं रहीं।

मैच रेफरी की भूमिका राजू यादव, राजन, अखिलेश, दिलीप सिंह, महेश पासवान ने निभाई। इस अवसर पर महाविद्यालय की प्रबंधक विभा गिरी, प्रधानाचार्य कुलदीप यादव डाक्टर इरफान, जमील अहमद, डाक्टर नंदनी पटेल, श्रद्धा वर्मा, सतीश कुमार सहित आदि लोग उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन मनोज कौशल ने किया।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*