जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
मुख्यमंत्री जन आरोग्य मेला के नाम पर खानापूर्ति, मरीज भी नहीं ले रहे हैं दिलचस्पी
मेले को सरकारी आदेश  मानकर लगा तो दिया जाता है, लेकिन प्रचार प्रसार न अच्छी व्यवस्था के अभाव के कारण मेले की मंशा फलीभूत नहीं हो पा रही है। इसे लोग केवल खानापूर्ति वाला मेला कहने लगे हैं।
 

मुख्यमंत्री जन आरोग्य मेला का ऐसा है हाल, मरीज नहीं दिखा रहे हैं रुचि, इलिया में इलाज के लिए आये मात्र 11 मरीज 

 

चंदौली जिला के शहाबगंज विकासखंड अंतर्गत इलिया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर मुख्यमंत्री जन आरोग्य मेला का आयोजन रविवार को किया गया। मेला में अबकी बार मरीजों ने रुचि नहीं दिखाई जिसके कारण उपस्थिति पिछले दिनों के अपेक्षा काफी कम रही। इलाज के लिए आए मात्र 11 मरीजों का ही पंजीकरण कर उनके स्वास्थ्य की जांच कर दवाएं दी गई।

रविवार को लगने वाले इस मेले को सरकारी आदेश  मानकर लगा तो दिया जाता है, लेकिन प्रचार प्रसार न अच्छी व्यवस्था के अभाव के कारण मेले की मंशा फलीभूत नहीं हो पा रही है। इसे लोग केवल खानापूर्ति वाला मेला कहने लगे हैं।

Mukhyamantri Jan Arogya

 आपको बता दें कि जन आरोग्य मेला में आए मरीजों में ज्यादातर जुकाम, बुखार, खाज, खुजली की शिकायत पाई गई। इस दौरान प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉक्टर मणिकेश सिंह, डॉक्टर अरविंद पांडेय ने विधिवत चेकअप कर उन्हें निःशुल्क दवाइयां उपलब्ध करायी। साथ ही मौसम के साथ होने वाली बीमारियों से बचाव के उपाय भी बताएं। 

इस अवसर पर फार्मासिस्ट राघवेंद्र, वार्ड बॉय रविंद्र, एएनएम सरोज आदि कर्मचारी मौजूद रहे।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*