जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
इलिया पुलिस के हत्थे चढ़े पशु तस्करी के दो वांछित अपराधी, 2 पिकअप वाहन सहित 15 मवेशी भी बरामद
 चंदौली जिला के इलिया पुलिस ने बरियारपुर गांव के मोड़ गेट के पास से सोमवार की रात 10 बजे में दो पिकअप वाहनों के साथ 15 मवेशियों को बरामद किया है
 

पुलिस ने दो तस्करों को धर दबोचा

तीन जिन्दा कारतूस बरामद किया

 चंदौली जिला के इलिया पुलिस ने बरियारपुर गांव के मोड़ गेट के पास से सोमवार की रात 10 बजे में दो पिकअप वाहनों के साथ 15 मवेशियों को बरामद किया है। वहीं पुलिस ने दो तस्करों को धर दबोचा। जिसके पास से 315 बोर का दो तमंचा व तीन जिन्दा कारतूस बरामद किया है।

Pashu taskari arrested Eliya Police

   आपको बता दें कि पुलिस को मुखबिर से सूचना मिला कि तस्कर दो पिकअप वाहनों से मवेशियों को बध हेतु बरियारपुर गांव के रास्ते बिहार होते हुए पश्चिम बंगाल जाने वाले हैं। जिस पर पुलिस ने गांव के मोड़ गेट के पास नाकेबंदी कर दी। इसी बीच दो पिकअप वाहन आता दिखाई दिया पुलिस ने दोनों वाहन को घेरकर रोक लिया। पिकअप वाहन संख्या यूपी 65 जेटी 9549 तथा यूपी 65 केटी 4312 दोनों वाहनों की तलाशी लेने पर उसमें 15 मवेशियों को बेरहमी पूर्वक ठूंंसकर बांधकर रखा गया था। जिसके कारण दोनों वाहनों में दो मवेशियों की मौत हो चुकी थी। शेष पशुओं को पुलिस ने मुक्त कराते हुए दोनों पिकअप वाहन को सीज कर दिया है। वही दोनों तस्करों के पास से दो 315 बोर तमंचा व तीन जिंदा कारतूस बरामद किए गए है।

  थानाध्यक्ष अमित कुमार ने बताया कि गिरफ्तार पशु तस्कर रामजनम सोनकर मिर्जापुर जिला के अहरौरा थाना अंतर्गत रामपुर,डभरी तथा नीरज कुमार बबुरी थाना क्षेत्र के रामपुर,चमरही गांव का रहने वाला है। गिरफ्तार दोनों तस्करों का पूर्व का अपराधिक इतिहास भी रहा है। रामजनम सोनकर का इलिया थाने में पशु तस्करी तथा आयुध अधिनियम के तहत पूर्व का मुकदमा भी पंजीकृत है। वहीं नीरज कुमार के ऊपर ही इलिया, शहाबगंज तथा कैमूर जिला के चांद थाना में कई मामलों में पूर्व का मुकदमा पंजीकृत है। जिसके विरुद्ध धारा 3/25 आर्म्स एक्ट, गोवध निवारण अधिनियम तथा पशु क्रूरता अधिनियम के तहत मुकदमा पंजीकृत कर अग्रिम कार्रवाई की जा रही है।

  गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में थाना अध्यक्ष अमित कुमार, उप निरीक्षक अखिलेश सोनकर, कमला यादव, महेश प्रताप सिंह, रणविजय, सौरभ पटेल, रमेश यादव, अविनाश यादव सहित कई पुलिसकर्मी रहे।