जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
सामान्य परिवार के बेटे रितेश ने पूरे जिले में किया टॉप, पिता चलाते हैं साईकिल की दुकान
रितेश क्षेत्र के वोलीपुर गाँव स्थित भोला नाथ इंटर कॉलेज का छात्र है। रितेश बचपन से ही पढ़ने में मेधावी है। रितेश ने बताया कि 
माता कनकलता हमेशा पढ़ाई के लिए प्रेरित करती रहती हैं। पिता का सपना है कि वह आगे चलकर इंजीनियर बनकर दादा स्व0 मस्तु जायसवाल के सपने को साकार करे।
 
मिलिए इंटरमीडिएट के टॉपर रितेश से, सारी कठिनाइयों को दरकिनार कर पायी सफलता, इंजीनियर बनकर मां-बाप का सपना साकार करने की इच्छा

चंदौली जिले के शहाबगंज कस्बे के निवासी रितेश कुमार जायसवाल ने इंटरमीडिएट की परीक्षा में जनपद में टॉपकर क्षेत्र का नाम रोशन किया है। आगे चलकर रितेश इंजीनियर बनकर अपने पिता अजय जायसवाल व दादा स्व. मस्तु जायसवाल के सपने को साकार करना चाहता है। 

रितेश का कहना है कि उसको यह सफलता औसतन 8 से 9 घंटे पढ़ाई करने के बाद यह मिली है। इस सफलता के बाद उसके परिवार में खुशी का माहौल छाया हुआ है।

रितेश क्षेत्र के वोलीपुर गाँव स्थित भोला नाथ इंटर कॉलेज का छात्र है। रितेश बचपन से ही पढ़ने में मेधावी है। रितेश ने बताया कि 
माता कनकलता हमेशा पढ़ाई के लिए प्रेरित करती रहती हैं। पिता का सपना है कि वह आगे चलकर इंजीनियर बनकर दादा स्व0 मस्तु जायसवाल के सपने को साकार करे।

 रितेश ने बताया कि स्कूल में शिक्षकों के मार्ग दर्शन में विषयों को समझने में आसानी मिली है। इसी के चलते उसने यह सफलता पायी है। उसने बताया कि गणित विषय पढ़ने में रूचि है। विद्यालय में गणित के शिक्षक भी बेहतर ढंग से पढ़ाते हैं। 

आपको बता दें कि रितेश के पिता की कस्बे में साईकिल की दुकान है, जहां प्रतिदिन समय निकाल वह पिता का सहयोग भी करता है। जनपद में पहला स्थान पाए जाने पर कस्बा के साथ ही क्षेत्र में हर्ष व्याप्त है। रितेश ने 12 वीं में 500 में 454 अंक प्राप्त किया है। 

इसकी  सपलता पर कस्बे के रहने वाले केशरीनंदन जायसवाल, मनोज जायसवाल, रजल्लु जायसवाल, पिंटू जायसवाल आदि ने बधाई दी है।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*