जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
रोजगार सेवकों ने बीडीओ को सौंपा 10 सूत्रीय मांग पत्र, दी अधिकारियों को चेतावनी
अभी तक रोजगार सेवकों के लिए की गई घोषणाएं एक वर्ष बाद भी अभी तक लागू नहीं की गई, जिसका खामियाजा हम रोजगार सेवकों को भुगतना पड़ रहा है। 
 

चंदौली जिले के शहाबगंज ब्लाक में ग्राम रोजगार सेवक संघ के आह्वान पर शहाबगंज ब्लाक इकाई के रोजगार सेवकों ने 10 सूत्रीय मांग पत्र खंड विकास अधिकारी दिनेश सिंह को सौंपा। इस दौरान रोजगार सेवकों ने कहा कि सरकार रोजगार सेवकों के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। अभी तक रोजगार सेवकों के लिए की गई घोषणाएं एक वर्ष बाद भी अभी तक लागू नहीं की गई, जिसका खामियाजा हम रोजगार सेवकों को भुगतना पड़ रहा है। 

सबने कहा कि हम रोजगार सेवकों का मानदेय 7788 रुपया प्रतिमाह है। लेकिन सरकार ने 2218 रुपये ईपीएफ खातें में नहीं जमा किया। जिसका लाभ किसी मनरेगा कर्मी के मृत्यु होने पर उसके आश्रित को नहीं मिल पा रहा है। मनरेगा कर्मी की मृत्यु होने पर उसके आश्रित को उसके पद पर समायोजन किया जाए। उनके अलावा नियुक्त ग्राम पंचायत के अलावा खाली ग्राम पंचायतों का भी कार्य रोजगार सेवक से लेकर उसका मानदेय प्रदान किया जाए। 

मनरेगा कार्य से ग्राम पंचायत की अन्य योजनाओं को भी जोड़ा जाए। मनरेगा कर्मियों के ऊपर किए जा रहे फर्जी मुकदमों को तत्काल खत्म कराने के साथ साथ व बकाया मानदेय के भुगतान किए जाने की मांग किया। 

इस दौरान विनीत श्रीवास्तव, मुमताज अहमद, रजनीश सिंह, दीनबंधु, यशवंत, अनिल कुमार, दिनेश गुप्ता, सुभाष, अरविन्द कुमार सहित आदि मनरेगा कर्मी उपस्थित रहे।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*