जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
चकिया जिला संयुक्त चिकित्सालय में सास-बहू-बेटा सम्मेलन, कार्यक्रम में परिवार नियोजन पर चर्चा
लोगों की सहमति से कम से कम 2 बच्चे ही पैदा करें और उनके स्वास्थ्य पर ध्यान रखें। सभी मिलकर के बच्चों की देखभाल करें।
 

अस्पताल में परिवार नियोजन की जानकारी

कार्यक्रम में आशा और एएनएम को बताए गए तौर तरीके

 

चंदौली जिले के चकिया स्थित जिला संयुक्त चिकित्सालय परिसर में गुरुवार की दोपहर प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ विकास कुमार सिन्हा के नेतृत्व में सास-बहू-बेटा सम्मेलन कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें एएनएम, आशा सहित अन्य महिलाओं ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। इसमें उन्हें विस्तृत रूप से जानकारी दी गई।

डॉ विकास कुमार सिन्हा ने महिलाओं को फैमिली प्लानिंग एवं नसबंदी इत्यादि से संबंधित विस्तृत रूप से जानकारी देते हुए कहा कि घर में सास-बहू और बेटा आपस में बैठकर बातचीत करने के साथ ही सभी लोगों की सहमति से कम से कम 2 बच्चे ही पैदा करें और उनके स्वास्थ्य पर ध्यान रखें। सभी मिलकर के बच्चों की देखभाल करें। वहीं उन्होंने कहा कि दो बच्चों के बीच का कितना अंतर होना चाहिए। इस चीज को सभी लोग समझे और इसकी उन्होंने विस्तृत रूप से जानकारी दी।

Sas bahu beta sammelan

 

इसके साथ ही आशा तथा एएनएम को इस कार्यक्रम से संबंधित अन्य भी महत्वपूर्ण जानकारियां दी गई जिससे कि वह जाकर लोगों के बीच में समझा सके। जिसका लोग उपयोग कर सकें।

इस दौरान मुख्य रूप से डॉ रवि शंकर कुमार, डॉ विजय कुमार वर्मा, फार्मासिस्ट आनंद मिश्रा, प्रताप सिंह, बृजेश कुमार, स्टाफ नर्स स्वाति सिंह,विजयलक्ष्मी, एनएम सरिता, रत्ना, सुधा इत्यादि स्वास्थ्यकर्मी मौजूद रहे।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*