जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
नव दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा के समापन पर जुटे भारी संख्या में श्रद्धालु, सुख शांति एवं समृद्धि के साथ हुआ कथा का समापन
वनदेवी ग्राम में महावीर सेवा समिति द्वारा आयोजित वनदेवी माता मंदिर के प्रांगण में चल रहे नव दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा के अंतिम निशा पर कथावाचक व्यास पंडित श्री शरण दास जी ने क्षेत्रिय जनों के सुख समृद्धि की कामना की। 
 

नव दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा का समापन

जुटे भारी संख्या में श्रद्धालु

सुख शांति एवं समृद्धि के साथ हुआ कथा का समापन
 

चंदौली जिले के चकिया तहसील अंतर्गत वनदेवी ग्राम में महावीर सेवा समिति द्वारा आयोजित वनदेवी माता मंदिर के प्रांगण में चल रहे नव दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा के अंतिम निशा पर कथावाचक व्यास पंडित श्री शरण दास जी ने क्षेत्रिय जनों के सुख समृद्धि की कामना की। 


कथा में उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने श्रीमद् भागवत कथा का रसपान किया है वह अपने आहार और विचार में बदलाव लाकर अपने तथा अपने पूरे परिवार व क्षेत्र के लोगों का कल्याण कर सकते हैं। नौ दिन की श्रीमद् भागवत कथा में जो बातें लोगों ने ग्रहण किया है निश्चित ही वह उनके परिवार में सुख शांति और समृद्धि लाने का काम करेगी।


 इस दौरान वनदेवी मंदिर के प्रांगण में बने यज्ञशाला में भक्तजनों ने सैकड़ों बार फेरी लगाई तथा भक्ति भाव का अनुभव लिया। कथा के अंतिम दिन भक्तों श्रद्धालुओं से पूरा पांडाल खचाखच भरा हुआ था। अंत में आरती के साथ नौ दिवसीय कथा का समापन किया गया।


इस मौके पर सत्य प्रकाश गुप्ता ग्राम प्रधान प्रतिनिधि सिकंदरपुर, श्यामजी रस्तोगी, समाजसेवी डॉ गीता शुक्ला, अरविंद गुप्ता ग्रामप्रधान भीषमपुर, शीतला प्रसाद केशरी सिकंदरपुर व्यापार मंडल अध्यक्ष, प्रमोद चौबे पुजारी,ओम प्रकाश पांडेय ब्यास आयोजक, सूर्य मणि त्रिपाठी के प्रतिनिधि रविशंकर त्रिपाठी, संतोष कुमार मौर्य, विद्याधर शर्मा, आदित्य गुप्ता, राजू गुप्ता, ज्ञानचंद केशरी सहित सैकड़ों लोग उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन राजेश विश्वकर्मा ने किया।