जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
मंगरौर के मां मंगला गौरी मंदिर पर बही भक्ति रसधारा, श्रोताओं को देख कलाकारों ने देर रात तक बांधा शमा
कार्यक्रम का शुभारंभ सुप्रसिद्ध देवी गीत पचरा भजन गायक अशोक सिद्धार्थ केशरवानी ने गणेश वंदना के साथ किया। उसके बाद "निमिया के डार मैया डाले ली झुलनवा की झूली झूली ना" की पारंपरिक गीत प्रस्तुत कर श्रोताओं को भक्ति रस धारा में भाव विभोर कर दिया। वही राधा मिश्रा के देवी गीत ने पूरे माहौल को भक्तिमय बना दिया।
 
गौरी मंदिर पर बही भक्ति रसधारा, श्रोताओं को देख कलाकारों ने देर रात तक बांधा शमा

चंदौली जिला के चकिया तहसील अंतर्गत मंगरौर ग्राम स्थित मां मंगला गौरी प्रांगण में शनिवार की रात सुर सरिता संस्था के कलाकारों द्वारा देवी जागरण, भजन तथा मनोहारी भक्ति की झांकी प्रस्तुत की गई। जिसमें देर रात तक श्रोता भक्ति की रसधारा में ओत-प्रोत होते रहे।

    बता दें कि छठ मैया के गीत "जल में कापेला शरिरिया का छुपल बानी उगी उगी ए सूरजमल का छुपाल बानी"के गीत सुनाकर भक्त गणों को मंत्रमुग्ध कर दिया।

    इस दौरान राधा कृष्ण, मां काली खप्पर वाली, शंकर पार्वती की मनोहारी झांकी ने श्रोताओं में देर रात तक शमा बांधे रखा। क्षेत्र में पहली बार ऐसा हुआ कि भक्ति जागरण कार्यक्रम में श्रोता पूरे मनसे कार्यक्रम के अंत तक डटे रहे।

mangla gauri mandir mangraur 

    कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में उपस्थित पूर्व विधायक जीतेंद्र प्रसाद एडवोकेट ने कहा कि व्यक्ति को दैनिक कार्यों को संपादित करने के साथ ही भजन भाव और भक्ति में भी अपनी भागीदारी निभानी चाहिए। समय-समय पर ऐसे आयोजनों में भी लोगों को भाग लेने मन में उत्पन्न होने वाली विकृतियां दूर होती हैं तथा अच्छे भाव का संचार होता है।

    इस दौरान मेवालाल, मिथिलेश कुमार, जोखू प्रसाद, कुंदन सैनी, शिवशंकर, रमाशंकर सहित भारी संख्या में श्रोता उपस्थित रहे। संचालन अशोक सिद्धार्थ केशरवानी ने आभार आयोजक शिवकुमार जी ने किया।