जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
जिला प्रशासन के खिलाफ बिगुल फूकेंगे अधिवक्ता, इन मुद्दों पर नाराज हैं वकील
वहीं जिला मुख्यालय पर बनने वाले स्टेडियम को पता नहीं किस राजनैतिक दबाव के चलते अन्यत्र सर्वे कराया जा रहा है।
 

चंदौली जिले के डिक्ट्रिक्ट बार और सिविल बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों की एक बैठक आयोजित करके जिला प्रशासन पर जमकर भड़ास निकाली गयी है। शुक्रवार को सदर तहसील परिसर में हुई बैठक में अधिवक्ताओं ने जिला प्रशासन के द्वारा न्यायालय निर्माण सहित अन्य परियोजनाओं के लंबित होने पर नाराजगी व्यक्त की। कहा कि जल्द ही एक बड़ी रणनीति की घोषणा की जाएगी।

Advocates meeting

मौके पर मौजूद अधिवक्ताओं ने घोषणा की कि 17 सितंबर को दोनों एसोसिएशन के पदाधिकारियों की संयुक्त बैठक के बाद आगामी आंदोलन के बारे में ऐलान किया जाएगा। लोगों ने जिला प्रशासन के जिम्मेदार अफसरों की कार्यशैली पर भी सवाल उठाते हुए कहा कि जिला मुख्यालय पर न्यायालय निर्माण की प्रक्रिया काफी दिनों से लंबित है। वहीं जिला मुख्यालय पर बनने वाले स्टेडियम को पता नहीं किस राजनैतिक दबाव के चलते अन्यत्र सर्वे कराया जा रहा है।

लोगों ने कहा कि प्रशासन की लापरवाही व हीलाहवाली से पुलिस लाइन और जिला जेल का निर्माण भी अभी तक लंबित है। जबकि अधिवक्ताओं ने इन परियोजनाओं को मूर्त रूप देने के लिए कई बार आंदोलन किया।

इस दौरान सिवलि बार और डिस्क्ट्रिक्ट बार ऐसोसिएशन के सुभाषचंद्र, संतोष कुमार सिंह, शमशुद्दीन, संजीव श्रीवास्तव, अनिल कुमार सिंह, राजेंद्र प्रसाद पाठक, विनोद सिंह, मो. अकरम, जन्मेजय सिंह, राघवेंद्र सिंह, गोविंदा गोस्वामी, संदीप सिंह, अमित सिंह, राजबहादुर सिंह, अजय लाल श्रीवास्तव, राकेशरत्न तिवारी, रवि सिंह, आनंद सिंह, डॉ. वीरेंद्र प्रताप सिंह, सुल्तान अहमद, श्याम सुन्दर सिंह, योगेश सिंह, केपी सिंह, प्रवीण तिवारी, प्रमोद कुमार, आशुतोष श्रीवास्तव, प्रमोद कुमार मौजूद रहे।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*