जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
मनराजपुर की घटना की न्यायिक जांच करने की मांग, पैदल मार्च कर प्रदर्शन
चंदौली जिले में योगी जी बुलडोजर को लोग याद कर रहे हैं। जिले की मनराजपुर घटना के दोषी पुलिसकर्मियों पर बुलडोजर नहीं चलाने पर तंज कसते हुए माकपा के राज्य सचिव हीरालाल यादव ने निशाना साधा और सरकार पर आरोप लगाया
 
राज्य सचिव रालाल यादव ने निशाना साधा और सरकार पर आरोप लगायाही

चंदौली जिले में योगी जी बुलडोजर को लोग याद कर रहे हैं। जिले की मनराजपुर घटना के दोषी पुलिसकर्मियों पर बुलडोजर नहीं चलाने पर तंज कसते हुए माकपा के राज्य सचिव रालाल यादव ने निशाना साधा और सरकार पर आरोप लगायाही। कहा कि इनका केवल बुलडोजर गरीबों दलितों, पिछड़ों और किसानों व मजदूरों पर ही चलेगा। 

paidal march

चन्दौली जिलाधिकारी कार्यालय तक शुक्रवार को चिलचिलाती दुपहरी में मार्च में शामिल माकपा के राज्य सचिव ने  ने कहा कि ब्लॉक मुख्यालय से जिलाधिकारी कार्यालय तक मार्च करके घटना की न्यायिक जांच व दोषी पुलिस कर्मियों पर भारतीय दंड़ संहिता 302 के तहत मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तारी की मांग की गयी। उसके साथ साथ मृतक निशा यादव की परिजनों को पचास लाख मुआवजा देने, मंहगाई पर रोक लगाने, नफरत व साम्प्रदायिक राजनीति पर रोक लगाने की मांग उठाई गयी। 

इस दौरान जिलाधिकारी कार्यालय जोरदार प्रदर्शन करते हुए उपजिलाधिकारी चन्दौली को राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन दिया गया, ताकि पीड़ित परिवार को न्याय मिल सके। 

march

सभा को सम्बोधित करते हुए माकपा के राज्य सचिव हीरालाल यादव ने कहा कि जब तक न्यायिक जांच की घोषणा नहीं होती हैं तब तक प्रदेश व्यापी आंदोलन जारी रहेगा। मोदी योगी सरकार के राज में दलितों-पिछड़ों, किसानों मजदूरों पर हमला लगातार किया जा रहा है। नफरत व सम्प्रदायिकता की राजनीति देश व प्रदेश के विकास के लिए बाधक है। न्याय व संविधान के हिसाब से देश व प्रदेश में सरकार नहीं चल रहीं है। मंहगाई आसमान छू रही हैं। समाज का हर तबका परेशान है। सरकार अपनी मस्ती में मस्त है। 

सभा को आईपीएफ के प्रदेश कार्य समिति सदस्य अजय राय, माकपा के जिला कार्य वाहक सचिव शम्भू नाथ यादव, किसान नेता, परमानन्द कुशवाहा, लालचंद यादव, नंदलाल यादव, महिला नेत्री लालमणि , मजदूर नेता, जयनाथ, नंदलाल, भृगनाथ विश्वकर्मा, जयप्रकाश विश्वकर्मा, सहित सैकड़ों लोगों ने मार्च निकाल कर सम्बोधित किया। सभा की अध्यक्षता किसान नेता परमानन्द कुशवाहा व संचालन  सतीश चंद्र ने किया।