जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
कर-करेत्तर व राजस्व की समीक्षा, इन अफसरों को वसूली बढ़ाने का फरमान
आबकारी अधिकारी को मदिरा दुकानों की नियमित जांच करने के निर्देश दिए तथा अवैध शराब के धर-पकड़ करने पर जोर दिया। 
 
जानिए किन-किन अफसरों के काम से खुश नहीं थे साहब, वसूली बढ़ाने के लिए कसी नकेल, इन कामों पर दिया जोर

चंदौली जिले के जिलाधिकारी  संजीव सिंह की अध्यक्षता में कर-करेत्तर राजस्व वसूली की मासिक समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई।जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिया कि प्रवर्तन की प्रभावी कार्यवाही करते हुए निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत राजस्व वसूली सुनिश्चित की जाय।

कर-करेत्तर व राजस्व की विभागवार समीक्षा में पाया गया कि वाणिज्यकर, परिवहन लोक निर्माण विभाग आदि की राजस्व वसूली की प्रगति संतोषजनक नहीं थी। एआरटीओ प्रवर्तन को निर्देशित करते हुए कहा कि अभियान चलाकर वसूली में प्रगति सुनिश्चित करें और ओवरलोड वाहनों की व्यापक धर-पकड़ करते हुए नियमानुसार कार्यवाही सुनिश्चित किया जाए।  

DM Chandauli Revenue

 आबकारी अधिकारी को मदिरा दुकानों की नियमित जांच करने के निर्देश दिए तथा अवैध शराब के धर-पकड़ करने पर जोर दिया।  जिलाधिकारी ने समस्त तहसीलदारगण को निर्देशित कर कहा कि विविध देयों की वसूली में तेजी लाई जाए। वादों का निस्तारण समय से सुनिश्चित किया जाए ।  जिलाधिकारी ने वनाधिकारी से अवैध कटान एवं नीलामी की जानकारी ली जिस पर वन अधिकारी ने किसी भी प्रकार का अवैध कटान न होने की पुस्टि की तथा नीलामी जून के महीने में होने की जानकारी दी।


  जिलाधिकारी ने बैठक के दौरान अधिकारियों को निर्देश दिये कि आईजीआरएस सहित विभिन्न स्तरों से प्राप्त होने वाले प्रार्थना-पत्रों का समय से निस्तारण करायें तथा यह भी सुनिश्चित करें कि कोई भी प्रकरण डिफाल्टर की श्रेणी में न रहने पाये।  बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने अवैध कब्जों को मुक्त कराते हुवे उन पर चारागाह ,वृक्षारोपण जैसे अन्य और सरकारी कार्य मे उपयोग करने के सभी उप जिलाधिकारीगण को निर्देशित किये।


 इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी ,ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/ उप जिलाधिकारी चकिया, समस्त उपजिलाधिकारीगण, तहसीलदार सहित अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।