जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
50 घंटे का उपवास शुरू कर तेज हुयी निशा मर्डर केस में कार्रवाई की मांग, ये हैं मांगें
सुधाकर यादव ने कहा कि हम सब राजनीतिक दल व सामाजिक संगठन एकजुट होकर आंदोलन की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं, जो इस बात का संकेत है कि जिले में अपने हक की लड़ाई आने वाले दिनों में और तेज होगी। 
 

कई संगठनों ने एक साथ मिलकर किया ऐलान, गिरफ्तारी होने तक जारी रहेगा धरना, जानिए कौन-कौन संगठन हैं शामिल

 

चंदौली जिले में मनराजपुर की घटना को लेकर भाकपा (माले) का 50 घंटे का उपवास शनिवार को बिछिया स्थित धरना स्थल पर शुरू हो गया है। भाकपा (माले) केंद्रीय कमेटी सदस्य व उत्तर प्रदेश राज्य सचिव सुधाकर यादव के साथ भारतीय किसान यूनियन के मंडल प्रवक्ता मणिदेव चतुर्वेदी, अखिल भारतीय खेत एवं ग्रामीण मजदूर सभा के जिला उपाध्यक्ष विजय राम, भारतीय किसान यूनियन के मंडल अध्यक्ष जितेंद्र प्रताप तिवारी के अलावा माले के जिलाध्यक्ष सतीश सिंह चौहान व युवा जिलाध्यक्ष रंकज सिंह उपवास पर बैठे हैं।

पुलिस पर निशा यादव की हत्या का आरोप लगाते हुए एसएचओ उदय प्रताप सिंह सहित सभी दोषी पुलिसकर्मियों को बर्खास्त करने, इनके खिलाफ धारा 302 के तहत मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार किए जाने, हत्याकांड में स्थानीय जनप्रतिनिधि के संलिप्तता की जांच कराने, कन्हैया यादव के ऊपर की गई गुंडा एक्ट व जिला बदर की कार्रवाई को वापस लेने, घटना की न्यायिक जांच कराने तथा पीड़ित परिवार के एक सदस्य को नौकरी व स्वजन को उचित मुआवजा देने की मांग की गई।

इस मौके पर सुधाकर यादव ने कहा कि हम सब राजनीतिक दल व सामाजिक संगठन एकजुट होकर आंदोलन की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं, जो इस बात का संकेत है कि जिले में अपने हक की लड़ाई आने वाले दिनों में और तेज होगी। 

भारतीय किसान यूनियन के मंडल प्रवक्ता मणिदेव चतुर्वेदी ने कहा कि यह लड़ाई इसलिए है कि पुलिस के लोगों द्वारा निशा की हत्या की गई है और सीबी सीआईडी की जांच कराकर मामले की लीपापोती करने की कोशिश की जा रही है। हम अपराधियों को बचने नहीं देंगे। सभा की अध्यक्षता अखिल भारतीय किसान महासभा के जिलाध्यक्ष श्रवण मौर्य व संचालन भाकपा(माले) जिला सचिव अनिल पासवान ने किया।

हत्यारों की गिरफ्तारी तक धरना देने का ऐलान

उधर विभिन्न मांगों को लेकर आजाद समाज पार्टी (कांशीराम) व भीम आर्मी की ओर से धरना तीसरे शनिवार को भी जारी रहा। पार्टी के जोनल प्रभारी विनय सागर ने कहा कि यह धरना तब तक चलेगा, जब तक की निशा यादव के हत्यारों की गिरफ्तारी व परिवार को 50 लाख का मुआवजा नहीं मिल जाता। 

कृषक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष महेंद्र यादव, भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष शैलेश, पार्टी के जिलाध्यक्ष चंद्र भाष्कर, कृषक दल के जिलाध्यक्ष परशुराम शर्मा, सुशील कुशवाहा, उमेश भारती, सोहन, योगेंद्र प्रताप, नंदन, अभिषेक आदि मौजूद थे।