जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
लोक अदालत व आधी सजा काट चुके कैदियों पर हुयी चर्चा, लोक अदालत में मामले निस्तारित करने पर जोर
माननीय राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली व राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ के दिए गए दिशा-निर्देशों पर विचार विमर्श किया गया।
 

जिला जज के चेम्बर में मीटिंग

इन मुद्दों पर हुयी चर्चा

राष्ट्रीय लोक अदालत में अधिक से अधिक मामले निस्तारित कराने पर जोर

आज राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली व राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ के आदेशानुसार प्रभारी जनपद न्यायाधीश/ अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण चंदौली के अध्यक्षता में जनपद न्यायाधीश के विश्राम कक्ष में एक बैठक आहूत की गई, जिसमें जिला मजिस्ट्रेट/ सदस्य की तरफ से अजय मिश्रा, एसडीएम सदर और पुलिस अधीक्षक/ सदस्य की ओर से सुखराम भारती, अपर पुलिस अधीक्षक, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के पूर्णकालिक सचिव संदीप कुमार, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट श्याम बाबू, अधीक्षक जिला कारागार वाराणसी / सदस्य की तरफ से वीरेंद्र कुमार त्रिवेदी, जेलर जिला कारागार वाराणसी उपस्थित रहे।

 उक्त बैठक में माननीय राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली व राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ के दिए गए दिशा-निर्देशों पर विचार विमर्श किया गया। बैठक में ऐसे बंदी जो अपनी सजा की अवधि में से आधी सजा काट कर के जेल में हैं, उनको छोड़े जाने पर विचार किया गया। साथ ही यह भी निर्देशित किया गया कि जो विचाराधीन अपना जुर्म स्वीकार करते हैं, उनको लोक अदालत में शामिल कर उनके वादों का निस्तारण करें।

 Meeting Rastriya Lok Adalat
 
बैठक में आगामी 13 अगस्त 2022 को होने वाली राष्ट्रीय लोक अदालत के बारे में भी चर्चा की गई। उपस्थित अधिकारीगण से यह प्रत्याशा की गई कि राष्ट्रीय लोक अदालत में अधिक से अधिक वादों का भी निस्तारण कराया जाय।


 इसके साथ साथ जनपद के समस्त एसडीएम व समस्त तहसीलदारों की उपस्थित में पूर्णकालिक सचिव संदीप कुमार द्वारा आगामी माह में होने वाली राष्ट्रीय लोक अदालत के बारे में बताया गया और सुलह समझौते के आधार पर निस्तारित होने वाले वादों पर जोर दिया गया। सचिव महोदय ने आगे बताया कि आगामी होने वाली राष्ट्रीय लोक अदालत के लिए बैनर, पोस्टर तथा पंपलेट के माध्यम से प्रचार कराया जाय। सभी उपस्थित प्रतिनिधियों को यह भी निर्देशित किए राजस्व के जो भी मामले हैं, उनको भी अधिक से अधिक संख्या में उक्त राष्ट्रीय लोक अदालत में निस्तारित कराने की पहल करें।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*