जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
50 लाख से अधिक एवं कम लागत की परियोजनाओं की समीक्षा, मुख्यमंत्री की घोषणाओं पर जोर
जिलाधिकारी ने कहा कि जो भी निर्माण कार्य पूर्ण हो चुके हैं, उसको सम्बन्धित विभागों को हैण्डओवर कराने की कार्रवाई जल्द से जल्द कर दी जाय। 
 


चंदौली जिले में जिलाधिकारी संजीव सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में 50 लाख से अधिक एवं कम लागत की परियोजनाओं, मुख्यमंत्री के विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों, क्रिटिकल गैप्स योजना एवं मुख्यमंत्री की घोषणाओं की समीक्षा बैठक में सम्पन्न हुई, जिसमें मामला दिशा निर्देश तक सीमित रहा।
          
बैठक में जिलाधिकारी ने जल निगम ग्रामीण व शहरी, लोक निर्माण विभाग,यूपी सिडको, आरईएस, पर्यटन, आवास विकास, राजकीय निर्माण निगम, सीएनडीएस जैसी कार्यदायी संस्थाओं के द्वारा कराये जा रहे कार्यों की विस्तारपूर्वक समीक्षा की गयी। 

 

          
बैठक में जिलाधिकारी ने निर्माण कार्य को मानक के अनुरूप एवं गुणवत्तापूर्ण तरीके से कार्य कराने का निर्देश दिया।  जनपद में निर्माण के अधूरे कार्यों के बारे में जानकारी लेते हुए पता चला कि बहुत सारे काम धनाभाव के कारण रूके हैं। इन सबके लिए उच्चाधिकारियों को पत्राचार करने का निर्देश दिया गया ताकि पैसा मिलने के बाद जल्द से कार्य पूरा हो सके। 

Dm chandauli review
जिलाधिकारी ने धनावंटन के बाद भी कम प्रगति वाले कार्यों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्माण एजेंसी के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि कार्यों को गुणवत्तापूर्ण एवं मानक के अनुसार निर्धारित समय के अन्दर पूरा करने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाये। उन्होंने स्पष्ट किया कि निर्माण कार्यों में किसी भी स्तर पर लापरवाही को बहुत ही गंभीरता से लिया जाएगा और संबंधित विभाग के अधिकारी उसके लिए पूर्ण रूप से जिम्मेदार होंगें। जिलाधिकारी ने कहा कि जो भी निर्माण कार्य पूर्ण हो चुके हैं, उसको सम्बन्धित विभागों को हैण्डओवर कराने की कार्रवाई जल्द से जल्द कर दी जाय। 

 जिलाधिकारी ने मुख्यमंत्री की घोषणाओं के कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर लेते हुए पूर्ण कराने का निर्देश दिया। साथ ही कहा कि इसकी समीक्षा सीधे शासन स्तर से की जाती है। इसलिए इस पर सारे अधिकारियों की नजर होनी चाहिए। इसमें लापरवाही बरतने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 

       
 बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी अजितेंद्र नारायण, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ वाईके राय, जिला विकास अधिकारी, पीडी डीआरडीए, उप निदेशक कृषि, अर्थ एवं संख्याधिकारी, जिला पूर्ति अधिकारी, अधिशासी अभियंता बंधी प्रखंड, जिला समाज कल्याण अधिकारी, सहायक निदेशक मत्स्य, परियोजना अधिकारी डूडा, जिला कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास, जिला प्रोबेशन अधिकारी, अधिशासी अभियंता विद्युत, खण्ड विकास अधिकारी सहित अन्य जनपदस्तरीय अधिकारी एवं कार्यदायी संस्था के अधिकारीगण उपस्थित थे।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*