जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
स्वास्थ्य केन्द्रों पर मनाया गया खुशहाल परिवार दिवस, परिवार नियोजन के दिए गए टिप्स
शहाल परिवार दिवस पर स्वास्थ्य केन्द्रों पर परिवार नियोजन की सभी सेवाएँ नि:शुल्क उपलब्ध करायी गयीं |
 

चंदौली में परिवार नियोजित करने के बारे में जागरूकता लाने के हरसम्भव प्रयास  निरंतर किए जा रहे हैं। खुशहाल परिवार दिवस पर स्वास्थ्य केन्द्रों पर परिवार नियोजन की सभी सेवाएँ नि:शुल्क उपलब्ध करायी गयीं | इसमें दंपत्ति की भागीदारी बढ़ाने के लिए विभाग की ओर से प्रयास किये जा रहे हैं |

इसके लिए तीन समूहों को प्रोत्साहित किया जाता है | पहले समूह में हाई रिस्क प्रेगनेंसी (एचआरपी) वाली महिलाएं, दूसरे में नव-विवाहित दंपति और तीसरे में योग्य दंपति को शामिल किया जाता है | 

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ• वाई के राय ने कहा कि वृहस्पतिवार को खुशहाल परिवार दिवस पर स्वास्थ्य केन्द्रों पर परिवार नियोजन की सभी सेवाएँ नि:शुल्क उपलब्ध हैं।

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी व नोडल अधिकारी डॉ एसके सिंह ने बताया कि मातृ एवं शिशु मृत्यु-दर में कमी लाने में परिवार नियोजन सेवाओं की  अहम भूमिका है। इस उद्देश को सफल बनाने के लिए जिले में हर माह की 21 तारीख को खुशहाल परिवार दिवस मनाया जाता है,जिससे स्वस्थ और खुशहाल परिवार के लिए लोगों को परिवार नियोजन साधन के महत्व की जानकारी हो सके और साधन को अपनाने के लिए आगे आ सकें। 

इसके तहत जिले में गुरुवार को महिलाओं के लिए गर्भ निरोधक इंजेक्शन अंतरा 80 आईयूसीडी 81और पीपीआईयूसीडी 18 छाया 292 ,माला 368, साथ कंडोम 2824 वितरण किया गया |

Happy family day

स्वस्थ परिवार के लिए पहले बच्चे के बाद दूसरे बच्चे के जन्म में कम से कम तीन  साल का अंतर होना चाहिए, दो बच्चों के बाद महिला या  पुरुष को  नसबंदी जैसे साधनों का प्रयोग कर खुशहाल परिवार बनाना चाहिए । गर्भावस्था, प्रसव का  समय व प्रसव के पश्चात का समय स्वास्थ्य के मद्देनजर अधिक महत्त्वपूर्ण समय होता है। इस दौरान प्रसूता की देखभाल के साथ ही पौष्टिक आहार पर भी ध्यान देने के लिए भी जागरूक किया जाता है | 

यूपीटीएसयू के परिवार नियोजन विशेषज्ञ ने कहा - परिवार नियोजन सम्बन्धी जागरूकता लाने और आयोजन में दम्पति  की भागीदारी बढ़ाने के लिए विभाग द्वारा जिले के सभी इकाइयों पर प्रशिक्षित स्टाफ द्वारा सभी सुविधायें उपलब्ध करायी गयीं । 

राजकीय महिला चिकित्सालय पहुंची अनीता देवी (32) ने कहा कि घर के नजदीक केंद्र पर ही सभी सुविधा मिल जाती हैं| कम बच्चे होने के फायदे बताए गए | हमारे तीन बच्चे हैं  और बच्चे नहीं चाहिए, इस लिए आज नसबंदी करवा ली है| इसके कोई दिक्कत नहीं हुई |

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*