जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस कार्यक्रम की बैठक, 1 वर्ष से 19 वर्ष तक के बच्चों के लिए अभियान
जिलाधिकारी संजीव सिंह की अध्यक्षता में राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस कार्यक्रम की बैठक एवं संवेदीकरण का आयोजन कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुआ।
 

राष्ट्रीय कृमि मुक्ति के लिए 20 जुलाई से अभियान

बच्चों को दी जाएगी दवाई

इन बातों का रखना होगा खास ध्यान

चंदौली जिले के जिलाधिकारी संजीव सिंह की अध्यक्षता में राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस कार्यक्रम की बैठक एवं संवेदीकरण का आयोजन कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुआ। इस दौरान जिले में अभियान चलाने के साथ साथ बरती जाने वाली सावधानियों पर भी चर्चा हुयी। 

कार्यक्रम के दौरान जनपद स्तरीय अधिकारियों के साथ-साथ ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों द्वारा भी प्रतिभाग किया गया, जिसमें मुख्य विकास अधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी, जिला कमेटी प्रोसेस प्रबंधन, जिला कार्यक्रम प्रबंधक सहित खंड शिक्षा अधिकारी, सीडीपीओ आदि द्वारा प्रतिभाग किया गया।

National Deworming Day

 कार्यक्रम के अंतर्गत 1 वर्ष से 19 वर्ष तक के बच्चों को कृमि मुक्ति दिवस अभियान के तहत 20 जुलाई से अभियान चलाया जा रहा है। इस दौरान बच्चों को पेट में कीड़े मारने की गोली एल्बेंडाजोल 400 एमजी खिलाया जाना है ।अभियान के अंतर्गत 1 से 2 वर्ष के बच्चों को आधी गोली चूरा बनाकर एवं 2 से 19 वर्ष के बच्चों को एक गोली चबाकर खिलाया जाना है। यह दवा स्कूल एवं आंगनवाड़ी केंद्रों पर ही खिलाया जाना है।

इस दौरान बीमार बच्चों एवं इसी तरह की बीमारी में पहले से दवा खा रहे बच्चों को दवा नहीं खिलाई जानी है। किसी भी बच्चों को गोलियां घर ले जाने के लिए नहीं दी जाएगी। मापअप दिवस 25,26, 27 जुलाई को छूटे हुए बच्चों को दवा खिलाया जाना है। किसी भी बच्चे को प्रतिकूल प्रभाव होने पर संबंधित ब्लाक के अधीक्षक, प्रभारी चिकित्सा अधिकारी के साथ साथ आरआरटी टीम द्वारा चिकित्सकीय परामर्श एवं निदान की कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए 108 एंबुलेंस को भी नियत दिवस पर सक्रिय मोड में रखने की निर्देश दिए गए। 

जिलाधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया कि राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस को सफल बनाने के लिए समस्त अधिकारीगण कार्य योजना के अनुसार कार्य सुनिश्चित करें।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*